भभुंआ संवाददाता-अविश्वास प्रस्ताव पास, सभापति ने गंवाई कुर्सी

0
1

नगर परिषद के सभापति के खिलाफ लाया गया अविश्वास प्रस्ताव सदन में शनिवार को बहुमत से पास हो गया। अविश्वास प्रस्ताव पास होने के साथ ही नगर सभापति की कुर्सी गंवानी पड़ी। बैठक की कार्रवाई शुरू होने ही वाली थी कि सभापति जैनेन्द्र कुमार आर्य सभागार में पहुंचे और पार्षद की कुर्सी पर बैठ गए। सदन में पहुंचे प्रेक्षक के साथ कार्यपालक पदाधिकारी ने उन्हें सभापति की कुर्सी पर बैठाया। सदन की कार्रवाई शुरू होते ही सभापति खड़ा हुए और नगरपालिका अधिनियमों का हवाला देते हुए अपना आरोप पत्र पढ़े। इसके बाद वह बैठक का बहिष्कार कर सदन से बाहर चले गए।

सभापति के बाहर जाने के बाद प्रेक्षक ने सदन की कार्रवाई शुरू कराने का आदेश दिया। बैठक की कार्रवाई संपादित करने के लिए पार्षदों ने सर्वसम्मति से विजय सिंह को अध्यक्ष मनोनित किया। विजय सिंह की अध्यक्षता में सदन की कार्रवाई शुरू हुई। अविश्वास प्रस्ताव पर सभी पार्षदों ने बारी-बारी से मतदान किया। मतों की गिनती के बाद प्रेक्षक ने रिजल्ट घोषित किया। उन्होंने कहा कि अविश्वास प्रस्ताव बहुमत के साथ पास हुआ है। सदन में 21 पार्षद अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में वोट दिए हैं। सदन की हर कार्रवाई की बागडोर प्रेक्षक के तौर पर उपस्थित पंचायती राज पदाधिकारी विनोद आनंद संभाल रहे थे।

नगर परिषद क्षेत्र में 25 पार्षद हैं। सदन में शनिवार को सभापति समेत 23 पार्षद उपस्थिति हुए। सभापति अपना आरोप पत्र पढ़ने के बाद सदन से बाहर चले गए। एक पार्षद को बैठक की अध्यक्षता करने के लिए 21 पार्षदों ने मनोनित किया था। नगर उपसभापति नाहिदा परवीन और रमेंद्र कुमार आकाश बैठक में भाग लेने नहीं पहुंचे थे। नाहिदा परवीन ने गुरुवार को अपना इस्तीफा सभापति को सौंपा था, जिसे सभापति ने शुक्रवार को मंजूर कर लिया था।