भभुंआ संवाददाता-तमिलनाडु में बंधक बनाए गए कैमूर के सात युवक मुक्त

0
1

तमिलनाडु में बंधक बनाए गए सदर थाना क्षेत्र के अखलासपुर गांव के सभी सात युवक मुक्त करा लिए गए। कैमूर प्रशासन की पहल पर चार युवकों को तमिलनाडु पुलिस छापेमारी कर गुरुवार की शाम में बरामद कर अपने साथ थाना ले गई है। जबकि तीन युवक फैक्ट्री संचालक के चंगुल भाग निकले हैं। इनमें एक सूरज चौहान अपने घर पहुंच चुका है। जबकि जर्नादन चौहान व रवि चौहान तामिलनाडु से चार बजे की ट्रेन से रांची के लिए रवाना हो चुके हैं। डीएम डॉ. नवल किशोर चौधरी व एसपी दिलनवाज अहमद ने इसकी पुष्टि की और बताया कि तमिलनाडु पुलिस द्वारा गुरुवार को बरामद किए गए युवकों में अखलासपुर के मो. सैय्यद अंसारी, अमन कुमार, महेश कुमार व अगंद कुमार शामिल हैं।

डीएम व एसपी को युवकों को बंधक बनाए जाने की सूचना 22 जुलाई को जैसे ही मिली उनके द्वारा कार्रवाई करते हुए एसडीओ जन्मेजय शुक्ला व डीएसपी अजय प्रसाद को पीड़ितों के गांव भेजकर रिपोर्ट तैयार कराई। रिपोर्ट सरकार को भेजी और चंदौली के साहेबगंज स्थित अमांव निवासी ठेकेदार मुलायम यादव की गिरफ्तारी के लिए वहां के प्रशासन और युवाओं को मुक्त कराने के लिए तामिलनाडु प्रशासन से बात की। तामिलनाडु से लौटने के बाद सूरज से एसपी ने अपने कार्यालय कक्ष में पूछताछ की।

तामिलनाडु में फंसे शेष छह युवकों को मुक्त कराने के लिए पुलिस अधीक्षक ने छह मामले के अनुसंधानकर्ता सह सब-इंस्पेक्टर संजय कुमार व लेबर इंस्पेक्टर अमित कुमार को वहां भेजने की तैयारी कर ही रहे थे कि वहां से सूचना मिली कि तमिलनाडु पुलिस ने चार युवकों को बरामद कर लिया है और तीन युवक फैक्ट्री संचालकों के चंगुल से भाग निकले हैं। परिजनों के बयान पर ठेकेदार व अन्य के खिलाफ नगर थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई है।