भोपाल, मध्य प्रदेश सरकार ने दिवाली से ठीक पहले एक बड़ा फैसला लिया

0
126

भोपाल, मध्य प्रदेश सरकार ने दिवाली से ठीक पहले एक बड़ा फैसला लिया है। शिवराज सरकार ने राज्य में चीनी और अन्य विदेशी पटाखों के भंडारण, परिवहन और बिक्री पर पूरी तरह बैन लगा दिया है। मध्य प्रदेश जनसंपर्क विभाग ने प्रेस रिलीज जारी कर बताया, ‘चीनी और अन्य विदेशी पटाखों का आयात बिना लाइसेंस पूरी तरह बैन है। डायरेक्टर जनरल फॉरेन ट्रेड (डीजीएफटी) की ओर से चीनी या विदेशी पटाखों के आयात के लिए कोई लाइसेंस भी जारी नहीं किए गए हैं।’
मध्य प्रदेश के अपर मुख्य सचिव (गृह) डॉ. राजेश राजौरा ने सभी जिलाधिकारियों और पुलिस अधीक्षक को इस संबंध में निर्देश जारी किए हैं। अधिकारियों से कहा गया है कि कि चीनी और अन्य विदेशी पटाखों का भंडारण, परिवहन और बिक्री पूरी तरह बैन है। विज्ञप्ति के अनुसार, ऐसा करना पूरी तरह गैरकानूनी है।विस्फोटक अधिनियम की धारा 9-बी (1) (बी) में इस प्रकार के अवैध पटाखों का भंडारण, वितरण, बिक्री या उपयोग किए जाने पर दो साल तक की सजा का प्रावधान है। राजौरा ने सभी जिलाधिकारियों को नियम-84 (विस्फोटक अधिनियम अंतर्गत प्रभावशील नियम) में ऐसे विदेशों में निर्मित पटाखों के लिए अस्थायी लाइसेंस जारी न करने को कहा है।
मुख्यमंत्री का आदेश, चीनी और विदेशी पटाखों पर पूरी तरह बैन
इससे पहले, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को मंत्रालय में प्रदेश की कानून-व्यवस्था के संबंध में उच्च स्तरीय बैठक की थी। इसमें मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में चीनी पटाखे बेचने और उनके उपयोग पर प्रतिबंध रहेगा। चौहान ने कहा कि ऐसा करने पर ‘एक्सप्लोसिव एक्ट’ की संबंधित धारा के तहत कानूनी कार्रवाई की जाएगी।
शिवराज की अपील, मिट्टी के दिए खरीदें
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश की जनता से अपील की है कि आत्मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत स्थानीय उत्पादों को खरीदा जाए। दीपावली के दौरान मिट्टी के दिए खरीदें, जिससे स्थानीय कुम्हारों को रोजगार मिले।(UNA)