मध्यप्रदेश से एक अनोखी खबर सामने आई है। यहां बड़वानी जिले के एक गांव में स्कूल से चोरी होने की शिकायत दर्ज कराई गई है। ग्रामीणों ने कलेक्टर, एसपी और पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज कर पड़ताल करने की गुहार लगाई है।

0
151

मध्यप्रदेश से एक अनोखी खबर सामने आई है। यहां बड़वानी जिले के एक गांव में स्कूल से चोरी होने की शिकायत दर्ज कराई गई है। ग्रामीणों ने कलेक्टर, एसपी और पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज कर पड़ताल करने की गुहार लगाई है।

सरकारी स्कूल के चोरी होने का ये मामला बड़वानी जिले के लिंबी गांव का है। गांव जिले के सबसे पिछड़े ब्लॉक में आता है जहां प्राइमरी स्कूल था। ग्रामीणों के अनुसार, लॉकडाउन से पहले स्कूल में बच्चे पढ़ते थे लेकिन लॉकडाउन लगने के बाद स्कूल चोरी हो गया है।

प्राइमरी स्कूल के दरवाजे, खिड़कियां चोरी हो गईं। स्कूल की दीवारें पूरी तरह से टूट चुकी है। गांव के लोगों ने स्कूल के चोरी होने की शिकायत कलेक्टर से की है। शिकायत में गांव के लोगों ने जाकिर नाम के एक व्यक्ति पर चोरी का आरोप लगाया है। कलेक्टर ने ग्रामीणों की शिकायत पर पाटी थाने के टीआई को प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच करने के आदेश दिए हैं।

गांव की स्कूल चोरी होने का मामला जागृत आदिवासी दलित संगठन ने उठाया। संगठन के सदस्यों ने बताया कि उन्होंने पहले गांव की पंचायत, तहसीलदार और बीआरसी से मामले की शिकायत की थी लेकिन किसी से भी उन्हें सही जवाब नहीं मिला इसलिए अब उन्होंने कलेक्टर से मामले की शिकायत की है। वहीं कलेक्टर के निर्देश के बाद पुलिस ने भी मामले की जांच शुरू कर दी है।

वाकई में एमपी अजब है। बच्चों के शिक्षा के मंदिर में भी चोरी जैसी घटनाओं से बदमाश बाज नहीं आ रहे है। वहीं गांव के लोगों ने भी स्कूल से सामान चोरी की शिकायत की जगह पूरी स्कूल चोरी होने की शिकायत दर्ज कराई है।