महादलित परिवार के घर में आग लगाने वाले अभियुक्तों को आरक्षी अधीक्षक करें गिरफ्तार- भाकपा माले लिबरेशन

0
13
आरक्षी अधीक्षक कैमूर राकेश कुमार

न्यायालय के न्यायाधीश काजल झाम्ब के आदेश पर रामपुर के तत्कालीन अंचलाधिकारी सहित पांच पर मुकदमा दर्ज

भभुआ-करमचट थाना कांड संख्या- 57 /20 21 के अभियुक्तों को गिरफ्तार करने के लिए भाकपा माले लिबरेशन के प्रतिनिधि मंडल आरक्षी अधीक्षक कैमूर राकेश कुमार को आवेदन देकर गुहार लगाई है। आवेदन में कहा गया है कि माननीय आरक्षी अधीक्षक महोदय भभुआ अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को आदेश कर तत्काल गिरफ्तार करने की अनुशंसा करें। ज्ञात हो कि थाना क्षेत्र के तेंदुआ गांव निवासी स्वर्गीय बंगाली राम के पुत्र मंगर राम को रामपुर अंचल के तत्कालीन अंचलाधिकारी सत्र 09/2003-04 में बिहार सरकार की सरकारी जमीन को बंदोबस्त कर दी गई थी। तत्कालीन अंचलाधिकारी ने उक्त जमीन पर मंगर राम एवं वगैरह को जमीन पर दखल कब्जा कराया था। स्थानीय दबंग लोगों ने 10 अप्रैल 2019 को मंगल राम के घर में आग लगा देना, उनके सामानों को नष्ट कर देना यह बात छनकर आई थी। तत्कालीन रामपुर अंचलाधिकारी अन्य लोगों के खिलाफ न्यायालय में मुकदमा दर्ज कराया गया था जिस आलोक में व्यवहार न्यायालय एडीजे प्रथम न्यायधीश काजल झाम्ब ने 3 दिसंबर 2021 को आदेश देकर थाने में तत्कालीन अंचलाधिकारी, अभिनाश सिंह, विनय कुमार सिंह, गंगा सिंह, अजय सिंह, जयप्रकाश सिंह, उदय सिंह पर प्राथमिकी दर्ज करने के लिए आदेश जारी किया था। एक अंचलाधिकारी के द्वारा बिहार सरकार के जमीनों पर अनुसूचित जाति परिवारों को कार्ड दे कर दखल कब्जा कराया गया दूसरी तरफ से तत्कालीन जिलाधिकारी के द्वारा भू माफियाओं से मिलकर गरीब के घरों में आग लगाने से उनके सामान जलकर नष्ट हो गए बाध्य होकर न्यायालय ने दलित परिवार के उत्पीड़न के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए आदेश जारी किया। भाकपा माले लिबरेशन के जिला सचिव कामरेड विजय सिंह यादव, कार्यालय सचिव मोरध्वज सिंह ने आरक्षी अधीक्षक कैमूर को आवेदन देकर दलित परिवार पर हुए उत्पीड़न में शामिल होने वाले को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग किया है।

विनोद कु राम की रिपोर्ट