मुंबई: अनलॉक के दौरान सड़कों पर वाहनों के चलने की छूट के बाद अब जल यातायात पर लगी पाबंदी को भी हटाया जा रहा है

0
177

मुंबई: अनलॉक के दौरान सड़कों पर वाहनों के चलने की छूट के बाद अब जल यातायात पर लगी पाबंदी को भी हटाया जा रहा है। इसीलिए सागर के रास्ते मुंबई से मांडवा जाने का रास्ता साफ हो गया है। गुरुवार से मुंबई (भाऊ का धक्का) से मांडवा (अलीबाग) के बीच रोपैक्स सेवा दोबारा शुरू हो रही है। मंबई से अलीबाग तक का लोगों का सफर आसान बनाने के लिए मार्च में रोपैक्स की शुरुआत की गई थी। लेकिन, कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव के कारण रोपैक्स शुरू होने के कुछ दिन के भीतर सेवा को बंद कर दिया गया। कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए रोपैक्स की क्षमता से आधे यात्रियों को ही सफर करने की अनुमति होगी। अगस्त में यह सेवा केवल सुबह और शाम के लिए उपलब्ध होगी। रोपैक्स के भीतर आठ श्रेणी में व्यवस्था की गई है। हर श्रेणी के हिसाब से हर यात्री का किराया 225 से 555 रुपये निर्धारित किया गया था। जहाज में सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन करवाने के लिए यात्रियों को हर हिस्से में बैठने की अनुमति दी गई है। सभी यात्रियों से एक किराया लेने का निर्णय लिया गया है।

300 रुपये किराया- रोपैक्स का संचालन करने वाली एम2एम कंपनी की डायरेक्टर देविका सहगल के अनुसार, सफर के लिए हर यात्री को 300 रुपये खर्च करने होंगे। वाहनों के साथ सफर करने के लिए लोगों को 800 से 1,200 रुपये खर्च करने होंगे। स्वास्थ्य जांच के बाद ही यात्रियों को जहाज में प्रवेश दिया जाएगा।
500 यात्री करेंगे सफर- देविका के अनुसार, जहाज में एक साथ करीब 1,000 यात्री सफर कर सकते हैं। यात्रियों को रोग से सुरक्षित रखने के लिए अभी केवल 500 यात्रियों को सफर करने की अनुमति होगी। रोपैक्स में यात्रियों को भोजन उपलब्ध नहीं होगा। सफर के दौरान लोगों को केवल चाय और नाश्ता मुहैया करवाया जाएगा। यात्रियों के रेस्पॉन्स के आधार पर सितंबर में सेवा में बढ़ोतरी की जाएगी। 3 घंटे का सफर 45 मिनट में रोपैक्स के शुरू हो जाने से मुंबई से मांडवा की 109 किमी की दूरी केवल 19 किमी में सिमट गई है। सड़क मार्ग से मुंबई से मांडवा की 109 किमी की दूरी तय करने में करीब 2 घंटे 55 मिनट का समय लगता है। रोपैक्स के माध्यम से केवल 45 मिनट में लोग अपने वाहनों के साथ यह सफर कर पाएंगे।(UNA)