मुंबई कोरोना महामारी (Coronavirus) के खात्मे के लिए वैक्सीन आने से पहले ही मुंबई में वैक्सिनेशन (Vaccination) की तैयारियां शुरू हो गई हैं। बीएमसी ने टीकाकरण के लिए मास्टरप्लान तैयार कर लिया है। शुक्रवार बीएमसी की सिटी टास्क फोर्स की बैठक में इस पर चर्चा हुई।

0
50

मुंबई
कोरोना महामारी (Coronavirus) के खात्मे के लिए वैक्सीन आने से पहले ही मुंबई में वैक्सिनेशन (Vaccination) की तैयारियां शुरू हो गई हैं। बीएमसी ने टीकाकरण के लिए मास्टरप्लान तैयार कर लिया है। शुक्रवार बीएमसी की सिटी टास्क फोर्स की बैठक में इस पर चर्चा हुई।
बीएमसी के अतिरिक्त आयुक्त सुरेश काकानी ने बताया कि शुरू में मुंबई में आठ स्थानों पर वैक्सिनेशन की सुविधा होगी। यह प्रक्रिया कड़ी सुरक्षा के बीच की जाएगी। वैक्सीन लगवाने के बाद हरेक को 30 मिनट तक वहां रुकना होगा। वैक्सिनेशन के दौरान निजी कंपनियों की मदद नहीं ली जाएगी। वैक्सिनेशन की प्रक्रिया के पहले दो चरण भंडारण और परिवहन के होंगे। फिर तीन चरणों में टीके लगाए जाएंगे। इसके तहत कुल 500 टीमें टीके लगाएंगी। हर टीम में 5 कर्मचारी होंगे। 21 से 28 दिनों के अंतराल पर दो खुराक लगेंगे। वैक्सीन 2 स्थानों पर स्टॉक की जाएंगी। 8 अस्पतालों में यह वैक्सीन दी जाएगी।

पहला चरण: 1.25 लाख सार्वजनिक और प्राइवेट स्वास्थ्य कर्मचारियों को टीका, 10 से 15 दिन लगेंगे।
दूसरा चरण: 6 लाख फ्रंटलाइन स्टाफ (पुलिस, बेस्ट-एसटी कर्मचारी, सेमी मेडिकल स्टाफ, बीएमसी और सफाईकर्मी।
तीसरा चरण: 50 वर्ष से अधिक आयु के नागरिक, अस्थमा, मधुमेह, हृदयरोग और अन्य पुरानी बीमारियों के मरीज।