मुंबई फिल्म अभिनेता सोनू सूद ने मंगलवार की सुबह राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के सर्वेसर्वा शरद पवार से उनके बंगले सिल्वर ओक पर मुलाकात की। रॉबिन हुड सोनू ने बताया कि उन्होंने लॉकडाउन के दौरान जनता के लिए किए गए अपने कामों की जानकारी शरद पवार को दी।

0
110

मुंबई
फिल्म अभिनेता सोनू सूद ने मंगलवार की सुबह राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के सर्वेसर्वा शरद पवार से उनके बंगले सिल्वर ओक पर मुलाकात की। रॉबिन हुड सोनू ने बताया कि उन्होंने लॉकडाउन के दौरान जनता के लिए किए गए अपने कामों की जानकारी शरद पवार को दी। आपको बता दें कि फिलहाल सोनू सूद और बृहन्मुंबई महानगरपालिका के बीच रेसिडेंशियल बिल्डिंग के व्यापारिक इस्तेमाल को लेकर विवाद चल रहा है। कोरोना महामारी और लॉकडाउन के दौरान जिस प्रकार से सोनू सूद ने आम नागरिकों और प्रवासी मजदूरों की मदद की थी। वह आज भी लोगों के दिलों में ताजा है। सोनू सूद के बर्ताव की प्रशंसा चारों तरफ खुले दिल से की गई थी।

सोनू के खिलाफ़ बीएमसी की शिकायत
बृहन्मुंबई महानगरपालिका ने फिल्म अभिनेता सोनू सूद के खिलाफ जो शिकायत की है। उसमें बीएमसी ने कहा है कि सोनू ने मुंबई के ए बी नायर रोड पर मौजूद शक्ति सागर बिल्डिंग महानगरपालिका को जानकारी दिए बगैर होटल में तब्दील की गयी। जबकि शक्ति सागर रेसिडेंशियल बिल्डिंग है लेकिन उसका कमर्शियल इस्तेमाल किया जा रहा है। बीएमसी की माने तो यह महाराष्ट्र रीजन एंड टाउन प्लानिंग एक्ट की धारा 7 के अनुसार यह दंडनीय अपराध है। हालांकि सोनू ने इन आरोपों को नकारते हुए कहा है कि बीएमसी से उसने जमीन के मालिकाना हक के ट्रांसफर की इजाजत ली है और सिर्फ महाराष्ट्र कोस्टल जोन मैनेजमेंट ऑथोरिटी से परमिशन मिलनी बाकी है।

अदालत में चल रही है सुनवाई
बीएमसी और सोनू सूद के दरम्यान चल रहे इस विवाद की सुनवाई बॉम्बे हाईकोर्ट में चल रही है। सोनू सूद और शरद पवार के बीच हुई इस मुलाकात के कई मायने निकाले जा रहे हैं। सबको पता है कि भले ही महाराष्ट्र के सरकार के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे हैं। लेकिन पर्दे के पीछे सरकार चलाने में पवार का भी अहम योगदान है। ऐसे में सोनू सूद कि नैया को शरद पवार ही मंझधार से पार लगा सकते हैं।