मुंबई, महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने अपनी सत्ता में साझीदार कांग्रेस को बड़ा झटका दिया

0
55

मुंबई, महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने अपनी सत्ता में साझीदार कांग्रेस को बड़ा झटका दिया है। प्रदेश सरकार ने छत्रपति साहूजी महाराज रीसर्च, ट्रेनिंग ऐंड ह्यूमन डिवेलपमेंट इंस्टिट्यूट (सारथि) को योजना विभाग को देने का फैसला किया है। सारथी के अलावा भी कुछ योजनाओं को उद्धव सरकार ने प्लानिंग डिपार्टमेंट को सौंप दिया है। खास बात यह है कि ये स्कीम्स जिस विभाग को सौंपे गए हैं, वह एनसीपी नेता और प्रदेश के उपमुख्यमंत्री अजित पवार के हाथ में है।
सरकार का यह फैसला कांग्रेस के लिए झटका इसलिए माना जा रहा है क्योंकि उसने सारथी स्कीम को पवार को सौंपे जाने के प्रस्ताव का जमकर विरोध किया था। इस विरोध को दरकिनार करते हुए उद्धव ठाकरे सकार ने इसे योजना विभाग को सौंपने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। गौरतलब है कि साल 2018 में मराठा, कुनबी-मराठा, मराठा-कुनबी और किसान परिवारों के सामाजिक-आर्थिक और शैक्षणिक विकास के लिए सारथी का गठन किया गया था।
कांग्रेस ने किया था प्रस्ताव का विरोध
महीना भर पहले सारथी स्कीम को प्लानिंग डिपार्टमेंट में शिफ्ट करने का प्रस्ताव लाया गया था। इस प्रस्ताव का कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष और राजस्व मंत्री बालासाहेब थोराट ने विरोध किया था। सिर्फ सारथी ही नहीं, दो अन्य महत्वपूर्ण योजनाओं को प्लानिंग विभाग को सौंपा गया है। गुरुवार को ओबीसी डिपार्टमेंट ने एक प्रस्ताव पास किया था, जिसके तहत छत्रपति शाहूजी महाराज स्कॉलरशिप योजना और हॉस्टल छात्रों के लिए डॉ. पंजाबराव देशमुख स्कीम को भी प्लानिंग डिपार्टमेंट को दे दिया गया।(UNA)