मुंबई मुंबई के आजाद मैदान में महाराष्ट्र के कोने-कोने से आए किसान आजाद मैदान से लेकर महाराष्ट्र के राजभवन यानी गवर्नर हाउस तक विरोध यात्रा निकालना चाहते थे।

0
29

मुंबई
मुंबई के आजाद मैदान में महाराष्ट्र के कोने-कोने से आए किसान आजाद मैदान से लेकर महाराष्ट्र के राजभवन यानी गवर्नर हाउस तक विरोध यात्रा निकालना चाहते थे। हालांकि इस बात की इजाजत मुंबई पुलिस ने नहीं दी है। लिहाजा अब किसानों का एक प्रतिनिधिमंडल शाम को गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी के प्रधान सचिव संतोष कुमार से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपेगा। किसानों के इस प्रतिनिधिमंडल में 8 से 10 सदस्य होने की बात कही जा रही है।

पुलिस ने नहीं दी परमीशन
मुंबई के आजाद मैदान में महाराष्ट्र के कोने-कोने से इकट्ठा हुए किसान सोमवार को आजाद मैदान से लेकर राजभवन (Maharashtra Governor House) तक प्रोटेस्ट मार्च निकालने वाले हैं। इसमें (NCP Chief Sharad Pawar) शरद पवार समेत महाविकास अघाड़ी (Mahavikas Aghadi Leaders) के कई बड़े नेता शामिल होने वाले हैं। हालांकि अब इस प्रोटेस्ट मार्च पर ग्रहण लगता हुआ नजर आ रहा है। मुंबई पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी विश्वास नागरे पाटील के अनुसार दक्षिण मुंबई में किसी भी प्रकार का प्रोटेस्ट मार्च नहीं निकाला जा सकता है।
यह आदेश बॉम्बे हाई कोर्ट की तरफ से जारी किया गया था। इसी आदेश का हवाला देते हुए पुलिस ने किसी भी प्रकार के प्रोटेस्ट मार्च को मंजूरी नहीं दी है। पुलिस लगातार मोर्चा आयोजकों और तमाम नेताओं को यह समझाने-बुझाने में लगी है कि ऐसा करने पर कोर्ट के आदेश की अवमानना होगी। ऐसे में देखना यह होगा कि यह मोर्चा आजाद मैदान में ही रहेगा या फिर कोर्ट के आदेश को तोड़कर राजभवन तक किसान पहुंचेंगे। मुंबई में किसान आंदोलन

दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन (Farmers Protest) को समर्थन देने के लिए और केंद्र सरकार का विरोध जताने के लिए महाराष्ट्र में भी किसान मुंबई के आजाद मैदान में इकट्ठा हुए हैं। राज्य के कोने-कोने से किसानों का जत्था मुंबई के आजाद मैदान पहुंचा है। रविवार की शाम हज़ारों की तादात में किसान यहां पहुंच चुके हैं। जबकि अभी भी किसानों के आने का सिलसिला शुरू है। कड़कड़ाती ठंड में तंबू के नीचे बैठे किसानों का हौसला बढ़ाने के लिए महिला और पुरुष किसानों ने पारंपरिक नृत्य भी किया।

अलाव से सर्दी भगाते किसान
महाराष्ट्र के दूर-दराज इलाकों से मुंबई में आए किसानों ने रात में जब ठंड पड़ी तो अलाव जलाकर ठंड को दूर भगाने का प्रयास किया। वहीं कई किसान तंबू में सोते हुए भी नजर आए। आज इस किसान आंदोलन में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, शरद पवार समेत कांग्रेस के नेता भी शामिल होंगे। अपनी ताकत दिखाने के लिए किसानों ने नासिक के पास पैदल मार्च भी किया।

शरद पवार, आदित्‍य ठाकरे रैली को करेंगे संबोधित
गौरतलब है कि किसान समर्थक संगठन संयुक्त किसान मोर्चा ने 23 जनवरी से 26 जनवरी तक राज्यों में राजभवन के समक्ष सहित पूरे देश में विरोध प्रदर्शन करने का आह्वान किया है। इसी के तहत महाराष्ट्र के करीब 100 संगठनों ने 12 जनवरी को मुंबई में हुई बैठक में संयुक्त शेतकारी कामगार मोर्चा का गठन किया। बयान के मुताबिक, 25 जनवरी को पूर्वाह्न 11 बजे आजाद मैदान में रैली शुरू होगी और शरद पवार के अलावा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं महाराष्ट्र के राजस्व मंत्री बालासाहेब थोराट, पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे भी रैली को संबोधित करेंगे। इसके बाद प्रदर्शनकारी राजभवन की ओर मार्च करेंगे और राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को ज्ञापन सौपेंगे।