मुंबई, यूपी में फिल्म सिटी के निर्माण को लेकर फिल्मी हस्तियों से बातचीत के लिए सीएम आदित्यनाथ मुंबई दौरे पर हैं

0
171

मुंबई, यूपी में फिल्म सिटी के निर्माण को लेकर फिल्मी हस्तियों से बातचीत के लिए सीएम आदित्यनाथ मुंबई दौरे पर हैं। एक दिन पहले उन्होंने बॉलिवुड अभिनेता अक्षय कुमार और सिंगर कैलाश खेर से मुलाकात की थी। बुधवार को वह बोनी कपूर, तिग्मांशु धूलिया समेत कई प्रोड्यूसर-डायरेक्टर के साथ बैठक करने वाले हैं। इसी के साथ मुंबई फिल्म सिटी के यूपी में शिफ्ट होने की चर्चा तेज होने लगी है और महाराष्ट्र की राजनीति में घमासान मच गया। सिर्फ शिवसेना, कांग्रेस, एनसीपी ही नहीं बल्कि महाराष्ट्र बीजेपी का भी कहना है कि मुंबई से फिल्म सिटी को कहीं और शिफ्ट नहीं किया जा सकता है। वहीं अब इस विवाद में राज ठाकरे के महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) की भी एंट्री हो गई है। आइए जानते हैं कि फिल्म सिटी को लेकर मचे बवाल पर किसने क्या कहा-
फिल्मी हस्तियों से योगी की मुलाकात, उद्धव सरकार में मची खलबली
फिल्म सिटी को यहां से ले जाना आसान नहीं- संजय राउत
योगी आदित्यनाथ और अक्षय कुमार की मुलाकात पर शिवसेना सांसद संजय राउत ने तंज कसते हुए कहा, ‘फाइव स्टार होटल में ठहरे साधु महाराज के लिए अक्षय शायद आम की टोकरी लेकर गए होंगे।’ उन्होंने आगे कहा, ‘मुंबई की फिल्म सिटी अगर कोई यहां से लेकर जाने की बात करता है तो यह मजाक है, इतना आसान नहीं है। इतनी साल पुरानी फिल्म सिटी है। हम सबका खून-पसीना बहा है। योगी जी से इतना ही पूछूंगा कि आप कोई बड़ा प्रोजेक्ट बनाना चाहते हैं बनाइए। लेकिन कुछ साल पहले जो नोएडा में फिल्म सिटी बनी थी उसका क्या हाल है। वहां कितनी फिल्मों की शूटिंग हुई, ये हमें आकर बताइए।’
संजय राउत ने आगे कहा, ‘दक्षिण भारत में फिल्म इंडस्ट्री भी काफी बड़ी है। पंजाब और पश्चिम बंगाल में भी फिल्म सिटी हैं। क्या योगी जी वहां जाएंगे और वहां के डायरेक्टर/आर्टिस्ट से बात करेंगे या फिर वह केवल मुंबई में ही यह करना चाहते हैं।’
तो 100 से मुंबई को मिला बॉलीवुड का दर्जा भी खत्म हो जाएगा- नवाब मलिक
वहीं एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा, ‘मुख्यमंत्री योगी यूपी में बॉलीवुड जैसी फिल्म सिटी बनाने की बात कर रहे हैं, अच्छी बात है लेकिन यह समझ लेना कि 100 साल से मुंबई को मिला बॉलीवुड का दर्जा खत्म हो जाएगा, लोग पूरी तरह से अन्य राज्यों में चले जाएंगे। बॉलीवुड के दर्जे को कोई खत्म नहीं कर सकता।(UNA)