मुंबई रिपब्लिक टीवी के अर्नब गोस्‍वामी और टीवी रेटिंग एजेंसी ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (बार्क) के तत्‍कालीन सीईओ पार्थो दासगुप्‍ता के कथित वॉट्सऐप चैट के स्‍क्रीनशॉट शुक्रवार से खूब चर्चा में हैं।

0
116

मुंबई
रिपब्लिक टीवी के अर्नब गोस्‍वामी और टीवी रेटिंग एजेंसी ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (बार्क) के तत्‍कालीन सीईओ पार्थो दासगुप्‍ता के कथित वॉट्सऐप चैट के स्‍क्रीनशॉट शुक्रवार से खूब चर्चा में हैं। बताया जा रहा है कि टीआरपी स्‍कैम में ये मुंबई पुलिस की 3600 पेज की चार्जशीट का हिस्‍सा हैं।

बार्क के सर्वर से सबूत मिले
एक चैट में दासगुप्ता कहते हैं कि NBA को जाम कर दिया गया है और मैं बहुत कॉन्फिडेंस से यह बता रहा हूं। पार्थो दासगुप्ता एक जगह अर्नब से कहते हैं कि आपके कुछ कहे बिना मैंने आपको सपोर्ट किया है। मैंने बाकी सब चैनल, लोगों को जाम कर दिया है।

वॉट्सऐप चैट के स्‍क्रीनशॉट रिपब्लिक टीवी अवैध तरीके से नंबर वन बना
पार्थो दासगुप्ता और रोमिल रामगढ़िया की गिरफ्तारी के बाद मुंबई क्राइम ब्रांच चीफ मिलिंद भारंबे ने कहा था कि दोनों के खिलाफ CIU को BARC के सर्वर से महत्वपूर्ण सबूत मिले हैं, जिससे यह साबित होता है कि इन दोनों आरोपियों ने अर्नब गोस्वामी के साथ मिलकर एक साजिश रची और उसी के तहत टाइम्स नाउ को नंबर 1 से नंबर 2 किया गया और रिपब्लिक टीवी को अवैध तरीके से नंबर वन बनाया गया।

अरनब गोस्वामी के लीक चैट पर कांग्रेस का अटैक, ‘TRP घोटाले में बीजेपी का हाथ है’
रेटिंग में हो रही थी हेरफेर
इन चैट से यह भी संके‍त मिलता है कि बार्क के अधिकारी रिपब्लिक टीवी और रिपब्लिक भारत के पक्ष में रेटिंग बढ़ाने के लिए कुछ हेरफेर कर रहे थे। इन स्‍क्रीनशॉट से यह भी पता चलता है कि बार्क के अधिकारी रिपब्लिक टीवी को रेटिंग बढ़ाने की रणनीति भी समझा रहे थे। इसके बदले में अर्नब गोस्‍वामी दासगुप्‍ता को सूचना व प्रसारण मंत्रालय, कैबिनेट फेरबदल और सचिवों की नियुक्तियों जैसी अहम जानकारी उन्‍हें दे रहे थे।

इन चैट्स से पता चलता है कि दासगुप्‍ता और अर्नब गोस्‍वामी लगातार संपर्क में थे। इसके अलावा बार्क के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर रोमिल रामगढ़‍िया और रिपब्लिक टीवी के सीईओ विकास खानचंदानी के बीच हुए चैट भी सामने आए हैं। दासगुप्‍ता फिलहाल जुडिशल कस्‍टडी में हैं, जबकि रामगढ़‍िया और खानचंदानी बेल पर हैं। अपने पद का उठाया फायदा
इन चैट्स से यह भी जाहिर होता है कि दासगुप्‍ता ओर रामगढ़‍िया ने अपनी पोजिशन का फायदा उठाकर र‍िपब्लिक टीवी के साथ गोपनीय जानकारी साझा की। मसलन, इन चैट्स से पता चलता है कि दासगुप्‍ता गोस्‍वामी को प्रोग्रामिंग और डिस्ट्रिब्‍यूशन के मसले पर गाइड कर रहे थे कि साथ ही रामगढ़ि‍या को कह रहे थे कि वह खानचंदानी को बताएं कि चैनल का डिस्ट्रिब्‍यूशन कहां बढ़ाया जाए।