मुहर्रम पर ना ताजिया ना जुलूस, योगी सरकार की गाइडलाइन

0
106

लखनऊ. उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से मुहर्रम के लिए प्रदेश के डीजीपी मुकुल गोयल ने गाइडलाइन जारी कर दी हैं. इस गाइडलाइन के अनुसार 19 अगस्त को प्रशासन ने किसी भी तरीके का जुलूस निकालने पर पाबंदी लगाई है. इसके साथ ही मुहर्रम के लिए धर्मगुरुओं से संवाद कर कोविड-19 के दिशा निर्देशों का भी ध्यान रखने को कहा गया है. इस मामले में डीजीपी ने पुलिस अधीक्षकों को साफ आदेश दिया है कि सभी महत्वपूर्ण स्थलों की चेकिंग करें और बीट स्तर पर हालातों का जायजा लेकर व्यवस्था बनाएं.
मुहर्रम मुस्लिम समुदाय के लिए बेहद खास है. मुहर्रम का पर्व हजरत इमाम हुसैन की शहादत की याद में मनाया जाता है. हजरत इमाम हुसैन कर्बला की जंग में शहीद हुए थे. इमाम हुसैन, पैगंबर मोहम्मद के नाती थे और दुनियाभर में शिया मुस्लिम मुहर्रम मनाते हैं. मोहर्रम को लेकर प्रदेश के कई थानों में शांति समिति की बैठक भी हुई. इस बैठक में थानाध्यक्ष ने मुस्लिम सुमदाय से कोविड गाइडलाइन का पालन कर अपना कार्यक्रम करने की अपील की है. इसके साथ ही फैसला यह भी लिया गया है कि कर्बला में मेला भी नहीं लगेगा, इसके लिए दो-तीन की लोग ही ताजिया की मिट्टी ले जाकर कर्बला में ठंडा करेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here