रांची, इस साल हज यात्रा एक लाख रुपये महंगी होगी, आजमीन को हज के लिए इस बार एक लाख 20 हजार रुपये अधिक देने होंगे

0
138

रांची, इस साल हज यात्रा एक लाख रुपये महंगी होगी। आजमीन को हज के लिए इस बार एक लाख 20 हजार रुपये अधिक देने होंगे। यही नहीं, इस साल की हज यात्रा पर जाने वालों के लिए सिर्फ अजीजिया कैटेगरी में ही आवेदन करना होगा। ग्रीन कैटेगरी को खत्म कर दिया गया है। इस बार हज यात्रा के लिए तीन लाख 75 हजार रुपये जमा कराए जाएंगे। केंद्रीय हज कमेटी के सीईओ मकसूद अहमद खान ने सभी प्रदेशों के हज दफ्तर को पत्र भेजकर इस संबंध में बता दिया है। हज कमेटी के खुर्शीद ने बताया इस साल के आज के नियमों में बदलाव भी किया गया है। यात्रियों को मिलने वाला सऊदी रियाल 2100 से घटाकर 1500 कर दिया गया है। मक्का मदीना में रहने की अवधि या सिर्फ 30 से 35 दिन तक की होगी। यात्रियों की संख्या कम होने से राज्यों का कोटा भी कम कर दिया गया है। हर जगह लाटरी सिस्टम से ही यात्रियों का चुनाव होगा। यात्रा के सूटकेस का पैसा हज कमेटी देगी।
इसका पैसा हाजी को देना होगा। 18 से 65 साल के उम्र के बीच के लोगों को ही हज करने दिया जाएगा। हज पर जाने से पहले आजमीन का कोरोना टेस्ट होगा। टेस्ट में निगेटिव पाए जाने वाले ही हज करने जा सकेंगे। झारखंड के यात्रियों की उड़ान कोलकाता एयरपोर्ट से ही होगी। हज पर जो लोग जाएंगे उन्हेंं 7 दिनों तक क्वारंटाइन रहना होगा। लौटने पर भी उन्हें क्वारंटाइन किया जाएगा।
हज यात्रा से 36 घंटे पहले यात्रियों को एयरपोर्ट पहुंचना होगा। हाजियों की संख्या कम कर दी गई है। हिंद पीढ़ी के मोहम्मद वसीम ने बताया कि हज यात्रा पर जाने वाले आनलाइन आवेदन करने के लिए परेशान हैं। लेकिन अभी तक आनलाइन आवेदन का पोर्टल नहीं खुला है। जैसे ही आनलाइन आवेदन का पोर्टल खुलता है। लोग इसमें आवेदन करेंगे।(UNA)