रांची : कोरोना के कारण झारखंड सरकार ने अब तक इंटर स्टेट बसों के परिचालन की अनुमति नहीं दी है. राज्य सरकार ने सिर्फ राज्य के अंदर ही बसों के परिचालन को मंजूरी दी है.

0
9

रांची : कोरोना के कारण झारखंड सरकार ने अब तक इंटर स्टेट बसों के परिचालन की अनुमति नहीं दी है. राज्य सरकार ने सिर्फ राज्य के अंदर ही बसों के परिचालन को मंजूरी दी है. लेकिन आदेश की अवहेलना कर इंटर स्टेट परिचालन शुरू हो गया है. वहीं भाड़ा भी चार गुना अधिक वसूला जा रहा है. यह बिना स्थानीय प्रशासन की मिलीभगत के संभव नहीं. चुटुपालू व बरही के टोल टैक्स नाके पर लगे सीसीटीवी कैमरे व डीवीआर में 24 मार्च से अब तक दर्ज फुटेज की जांच से इस बात की पुष्टि हो सकती है.

वर्तमान में सिर्फ मालवाहक वाहनों के ही अंतरराज्यीय परिचालन की अनुमति है झारखंड में. इसके अलावा शादी, किसी अन्य कार्यक्रम या पर्यटन के दृष्टिकोण से अधिकतम एक सप्ताह के लिए अन्य वाहनों के लिए परमिट लिया जा सकता है. लेकिन इसका उपयोग आम दिनों की तरह बसों के परिचालन में किया जा रहा है.

रोज जो बसें अलग-अलग यात्रियों को लेकर परिचालन करती हैं, उनके लिए स्टेट कैरेज परमिट होना चाहिए. रांची के खादगढ़ा, रातू रोड और धुर्वा बस स्टैंड से दूसरे राज्यों के लिए बसों का परिचालन होता है. लेकिन वर्तमान में नामकुम हाइटेंशन, मेदांता अस्पताल से पहले रिंग रोड के समीप तथा पिस्का रिंग रोड सहित अन्य स्थानों से बसों में यात्री चढ़ाये जा रहे हैं.

निर्देशों का उल्लंघन : कोविड-19 के मद्देनदर बस की कुल सीट की आधी संख्या में ही यात्रियों को बस में बैठाया जाना है. पर यह निर्देश भी ताक पर रख दिया गया है. सीट से ज्यादा यात्रियों को अलग से बेंच लगाकर बैठाया जा रहा है. बसों को सही से सैनिटाइज भी नहीं कराया जा रहा.

विभिन्न रूटों पर चलने वाली बसें और उनका किराया
टाटा से पटना : याराना, राजधानी, जय बाबा बर्फानी व कृष्णारथ (किराया-पहले 550 और अब 1000 रुपये प्रति सीट)

रांची से बक्सर : कुमार व शैलेंद्र (किराया पहले 400 रुपये, अब 800 रुपये प्रति सीट)

रांची से बनारस : अरविंद, जनता, शारदा मनीष, साहिल (काला घोड़ा) व भाेले शंकर : (किराया पहले 450 अब 2000)

रांची से पटना : आरजू, विजय रथ, पूजा रथ, कृष्णा रथ, पीहू ट्रेवल्स, दीपमाला, बैजू मोटर, जय रथ, साध्वी व कैमूर किंग (किराया-400 अब 1500 रुपये प्रति सीट)

रांची से छपरा-सिवान : विष्णु लोक, जय मां गुरु, उषा ट्रेवल्स व श्री ट्रेवल्स (किराया पहले 500 रुपये व अब 2000 प्रति सीट)

रांची से मुजफ्फरपुर-मोतिहारी : पावापुरी, विष्णु रथ, सीताराम व सीताराम रथ (किराया पहले 500 रुपये और अब 2000 रुपये प्रति सीट)

रांची से दरभंगा : पप्पू (किराया पहले 500 रुपये और अब 2000 रुपये प्रति सीट)

रांची से हाजीपुर : रोशन ट्रेवल्स (किराया पहले 400 रुपये और अब 1500 रुपये प्रति सीट)

कोडरमा, गिरिडीह, धनबाद और रामगढ़ में कार्रवाई की गयी है. जुर्माना के साथ एफआइआर भी करवायी गयी है. जहां कहीं भी बसों के अवैध परिचालन की जानकारी मिल रही है, वहां पर कार्रवाई करने का निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिया गया है.