रांची, । वैक्सीन आने के बाद सरकारी और गैर सरकारी स्तर पर कोरोना के कारण बंद सभी संस्थानों को फिर से खोलने की तैयारी चल रही है।

0
64

रांची, । वैक्सीन आने के बाद सरकारी और गैर सरकारी स्तर पर कोरोना के कारण बंद सभी संस्थानों को फिर से खोलने की तैयारी चल रही है। इसी बीच राज्य के सबसे बड़े कृषि संस्थान बिरसा कृषि विवि ने घोषणा की है कि कालेज में 28 जनवरी से कक्षायें एवं शोध कार्य भौतिक रूप( फिजिकल) रूप से शुरू किए जाएंगे। इसके लिए कुलपति डा ओंकार नाथ सिंह के द्वारा एक आदेश सोमवार की शाम को निकाला गया है।

आदेश में कहा गया है कि रांची के वरीय पदाधिकारियों की अनुशंसा के आलोक में विश्वविद्यालय के अधीन विभिन्‍न संकायों के अर्न्तगत संचालित स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम की कक्षाएं एवं शोध कार्य भौतिक रूप से 28 जनवरी के प्रभाव से प्रारंभ की जाएगी। पाठ्यक्रमों के भौतिक कक्षाओं एवं शोध कार्यों का क्रियान्वयन केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा कोविड 19 से संबंधित आदेश एवं दिशा-निर्देशों के क्रम में संचालित की जायेंगी। विश्वविद्यालय के अधीन स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम की कक्षाएं एवं शोध कार्यों के भौतिक रूप से संचालन से पूर्व संबंधित संकायों के अधिष्ठाता, प्राध्यापकों एवं विद्यार्थियों द्वारा शर्तों का अनुपालन कड़ाई के साथ किया जाना अपेक्षित है।

विवि में निकाले गए आदेश में कहा गया है कि सभी विद्यार्थियों को भौतिक रूप से छात्रावास/कक्षाएं/ प्रयोगशाला शोध कार्य करने के लिए अनुमति इस शर्त के साथ प्रदान की जाती है कि वे कोविड 19 के दिशा-निर्देश के शत-प्रतिशत अनुपालन करेंगे। जो विद्यार्थी भौतिक रूप से अपनी कक्षाएं एवं शोध करना चाहते हैं, उन्हें एक स्वलिखित शपथ-पत्र अपने अभिभावक के हस्ताक्षर के साथ जमा करना होगा। वहीं विवि में आने के 72 घंटे पहले कोविड निगेटिव जांच रिपोर्ट जमा करना अनिवार्य होगा। इसके साथ ही बिना मास्क और सैनिटाइजर के विद्यार्थी क्लास या शोध कार्य नहीं कर पाएंगे।