रांची, । सदर थाना क्षेत्र के पीएचइडी कॉलोनी से सीआरपीएफ कर्मी की 16 वर्षीय नाबालिग बेटी लापता हो गई थी। पुलिस ने शनिवार को आदर्श नगर स्थित एक घर से नाबालिग को बरामद कर लिया है।

0
24

रांची, । सदर थाना क्षेत्र के पीएचइडी कॉलोनी से सीआरपीएफ कर्मी की 16 वर्षीय नाबालिग बेटी लापता हो गई थी। पुलिस ने शनिवार को आदर्श नगर स्थित एक घर से नाबालिग को बरामद कर लिया है। वहीं, नाबालिग को भगाने के आरोप में पम्मी नामक महिला और एक नाबालिग लड़की को पकड़ा है। आरोप है कि यही दोनों नाबालिग को बहला-फुसला कर भगा ले गई थी। सोमवार को नाबालिग लड़की का अदालत में 164 का बयान दर्ज होगा। इसके बाद मेडिकल होगा। तब तक उसे प्रेमाश्रय में रखा गया है।

हालांकि, पुलिस यह छानबीन कर रही है कि आखिर नाबालिग को आदर्श नगर में छिपा कर क्यों रखा गया था। पुलिस ट्रैफिकिंग से भी इंकार नहीं कर रही है। बता दें कि सीआरपीएफ कर्मी रांची से बाहर पोस्टेड हैं। 20 जनवरी को उनकी बेटी बिना बताये कहीं गायब हो गई थी। परिजनों ने पम्मी के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज करायी थी। पम्मी कोकर के दीपाटोली में रहती है। ब्यूटी पार्लर में काम करती है। उसका पति राहुल मारपीट के मामले में होटवार जेल में बंद है। इंस्टाग्राम पर हुई थी दोस्ती

सदर थाना प्रभारी वेंकटेश कुमार के अनुसार पम्मी का नाबालिग से सोशल साइट इंस्टाग्राम दोस्ती हुआ। संपर्क में आने के बाद से लगातार दोनों में बातचीत होती थी। इसके बाद अचानक घर से निकल गई। वहीं, नाबालिग के गायब होने के बाद से परिजन काफी परेशान थे। तकनीकी सेल की मदद से पुलिस ने आदर्श नगर से नाबालिग को ढूंढ़ निकाला। बदामदगी की सूचना परिजनों को दे दी गई है।