लखनऊ में बोले- 2024 में मोदी को फिर प्रधानमंत्री बनाने के लिए 2022 में योगी जरूरी

5
130

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने विधानसभा चुनाव के लिए ‘फिर एक बार भाजपा 300 पार’ का नारा देते हुए कहा कि 2024 में मोदी को पीएम बनाने के लिए 2022 में योगी का सीएम बनना जरूरी है। योगी सरकार की पीठ थपथपाते हुए शाह ने सपा, बसपा और कांग्रेस को आड़े हाथ लिया। कहा कि इनकी सरकारों ने यूपी को बर्बाद कर दिया। सपा-बसपा शासनकाल में हर जिले में दो-तीन माफिया-बाहुबली हुआ करते थे लेकिन 2017 में आई योगी आदित्यनाथ सरकार ने ऐसा काम किया कि आज दूरबीन से देखने पर भी यहां माफिया नहीं दिखते।
राजधानी में शुक्त्रस्वार को भाजपा के वृहद सदस्यता अभियान ‘मेरा परिवार-भाजपा परिवार’ का शुभारंभ किया। वृंदावन योजना स्थित डिफेंस एक्सपो ग्राउंड पर कार्यकर्ताओं के हुजूम को संबोधित करते हुए शाह ने सपा, बसपा और कांग्रेस पर जहां जमकर हमला बोला वहीं तथ्य और तर्क  के साथ योगी सरकार की खूब तारीफ की उन्होंने कहा कि यूपी ने सपा, बसपा व कांग्रेस के बाद अब भाजपा का शासन भी देखा है। मुगलों का राज खत्म होने के बाद भी यूपी को बहुत वर्षों तक यह एहसास नहीं होता था कि यह बाबा विश्वनाथ, भगवान राम, गौतम बुद्ध, जैन संतों और महामना मालवीय की भूमि है। इसका एहसास 2017 में हुआ जब भाजपा की सरकार आई। योगी सरकार ने यूपी को उसकी असल पहचान वापस दिलाई।
अमित शाह ने कहा कि भाजपा हर चुनाव में राम मंदिर और कश्मीर से 370 के खात्मे का संकल्प लेती थी। जनता को भी इंतज़ार था कि यह दोनों सपने कब पूरे होंगे? अखिलेश एंड कंपनी हम पर तंज करती थी कि मंदिर वहीं बनाएंगे, तारीख नहीं बताएंगे, लेकिन परिवर्तन हुआ और सपा की सरकार में जिस जगह रामभक्तों को गोलियों से भूना गया था आज वहां गगनचुंबी मंदिर बन रहा है।
शाह ने चुटकी लेते हुए कहा कि अखिलेश जी तो राम मंदिर के लिए 5000 रुपये देने से भी चूक गए। हमने कश्मीर से 370 और 35ए को उखाड़ फेंका। जब कोरोना आया, बाढ़ आई तो अखिलेश एंड कंपनी घर में छुपी हुई थी। आज चुनाव नजदीक देख नए बरसाती मेंढक की तरह यह चुनावी मेंढक निकल पड़े हैं। शाह ने अखिलेश से सवाल किया कि वो 5 साल में कितने दिन विदेश में रहे? कोरोना और बाढ़ में अखिलेश कहां थे?
शाह ने कोरोना से लड़ाई में योगी सरकार के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री की कोशिशों ने लोगों का जीवन बचाया। आज टेस्ट हो या टीका, दोनों में यूपी नंबर एक है। अखिलेश राज में जो यूपी देश की सातवें नंबर की अर्थव्यवस्था थी, आज योगी के नेतृत्व में दूसरे नंबर की अर्थव्यवस्था है। 2017 में यहां 12 मेडिकल कॉलेज थे आज 30 मेडिकल कॉलेज बन चुके हैं और 2022 से पहले 40 हो जाएंगे। 2017 में हमारे सामने इतना बड़ा गड्ढा छोड़कर दिया गया था कि उसे भरना मुश्किल था। योगी सरकार ने बहुत कुछ किया पर अभी भी बहुत कुछ करना बाक़ी है। हम फिर से घोषणापत्र लाएंगे और उसे भी पूरा करके दिखाएंगे।
मिशन यूपी की औपचारिक शुरुआत करते हुए अमित शाह ने कहा कि 2014 और 2019 के लोकसभा चुनाव में अगर नरेंद्र मोदी के दो बार पूर्ण बहुमत की सरकार बना पाए तो इसका पूरा श्रेय यूपी की जनता को जाता है। कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए शाह ने कहा कि 2014 में प्रदेश प्रभारी और 2017 और 2019 में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में वह गली-गली घूमे हैं। अन्य दलों के लिए चुनाव सत्ता हथियाने का ज़रिया है जबकि हमारे लिए चुनाव अपनी विचारधारा को घर-घर तक पहुंचाने और दल का विस्तार करने का जरिया होता है।
पार्टी कार्यकर्ता घर-घर जाकर ‘मेरा परिवार-भाजपा परिवार’ का स्टीकर लगाने के साथ उनका हालचाल भी पूछें और सरकार की उपलब्धियां बताएं। भाजपा का घोषणापत्र किसी सर्वे एजेंसी नहीं बल्कि घर घर घूमने वाले कार्यकर्ता की रिपोर्ट से बनाया जाता है। उन्होंने दावा किया कि 2017 के चुनाव में घोषित लोककल्याण संकल्प पत्र के 90 फीसदी वादे पूरे किए गए हैं। दो महीने बाक़ी हैं। कोशिश रहेगी शत-प्रतिशत वादे पूरे हों। भाजपा का सदस्यता 29 अक्तूबर से 31 दिसंबर तक चलाया जाएगा।

5 COMMENTS

  1. STUCK – Üvey annesi masanın altına sıkışıp domalınca siken oğlan. Evden sıkılan üvey annesiyle tartışıp
    odasına geçen genç adam olacaklardan habersiz şekilde odasında müzik
    ve konsol oyunlarını oynamaktadır, depresyonda
    olan üvey annesi ise sıkıntıdan evde değişikliğe gitmeye karar vermiş her
    kadın gibi.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here