लखनऊ, राजधानी के पीजीआइ क्षेत्र के रजत बाजपेई की मौत के मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सिर में चोट आने के बाद पुलिस ने उसकी बैचमेट रही एक युवती से पूछताछ के बाद दो दोस्तों को भी हिरासत में ले लिया

0
16

लखनऊ, राजधानी के पीजीआइ क्षेत्र के रजत बाजपेई की मौत के मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सिर में चोट आने के बाद पुलिस ने उसकी बैचमेट रही एक युवती से पूछताछ के बाद दो दोस्तों को भी हिरासत में ले लिया है। पुलिस दोनों दोस्तों से गहन पूछताछ कर रही है। हालांकि, पुलिस का दावा है कि अभी तक हत्या की दिशा में किसी बिंदु पर कोई ठोस साक्ष्य नहीं मिले हैं। पुलिस का दावा है कि पोस्टमार्टम में युवक के मौत की पुष्टि डूबने से हुई है। वहीं, उसके सिर पर चोट भी है। सिर की चोट इतनी गंभीर नहीं है कि जिससे किसी की मौत हो सके। एसीपी कैंट बीनू सिंह ने बताया कि युवती और दोस्तों से पूछताछ में कोई ठोस तथ्य ऐसे नहीं मिले हैं जिससे रजत की हत्या की पुष्टि हो। मामले की जांच की जा रही है।
तालाब के बाहर मिले थे कपड़े और जूते
अलका के मुताबिक मंगलवार को बेटा कुछ दोस्तों के साथ पार्टी करने की बात कहकर निकला था। उसके बाद से वह नहीं लौटा। देर रात तक बेटे के न लौटने पर उसके दोस्त अर्पित से पूछताछ की तो उसने कहा कि रात वृंदावन कॉलोनी सेक्टर तीन स्थित एक निजी विद्यालय के पास छोड़ा था। उसके बाद कुछ नहीं पता। परिवार वाले काफी खोजबीन करते रहें पर कुछ पता न चला और मोबाइल मिलाया तो वह भी स्विच ऑफ मिला। इसके बाद उन्होंने पीजीआइ थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी। परिवारीजनों और पुलिस ने जब तलाश शुरू की तो तालाब के बाहर रजत के कपड़े पड़े मिले थे। बुधवार देर रात पुलिस ने पंप लगाकर तालाब का पानी खाली कराया। इसके बाद उसमें मिट्टी से सना शव मिला था। रजत के पिता मीसा बाजपेयी उत्तराखंड में सिविल इंजीनियर हैं।
मां ने लगाया हत्या का आरोप, पैतृक आवास उन्नाव में होगा अंतिम संस्कार
रजत बाजपेयी की मां अलका ने उसके दोस्तों पर हत्या का आरोप लगाया है। आरोप के आधार पर रजत के दोस्त अर्पित द्विवेदी और तुषार को हिरासत में लिया गया है। दोनों से पूछताछ की जा रही है। परिवारीजनों ने कहा कि शव का अंतिम संस्कार गुरुवार को गृह जनपद उन्नाव में होगा।(UNA)