सासाराम के गोंड समाज ने अपने पूर्वजों को शहादत दिवस के रूप में याद किए

0
53

(कैमूर ब्यूरो चीफ) राम नारायण सिंह
रोहतास जिला के सासाराम काली कंकाली दाई मंदिर के स्थान पर गोडवान के राजा शंकर शाह मंडली की 18 सितंबर 18 सो 57 ईसवी को जबलपुर न्यायालय के समक्ष तोप में बांधकर उड़ा दिये गये थे। परंतु राजा एवं उनके पुत्र अंग्रेजों के अधीनता नहीं रहे । बिहार राज्य के गोड के प्रदेश अध्यक्ष सत्यनारायण सिंह उईमा के नेतृत्व में युक्त लोगों का विधि विधान से गोगो पूजा पूजन संपन्न हुआ हुई
इनके चित्रों पर पुष्प अर्पित भी किया गया साथ ही भारत के प्रथम स्वतंत्रता सेनानी के रूप में लोगों ने याद कर उनकी भावनाओं को समाज में प्रदर्शित किया इस मौके पर राजन महाजन ,राजू गोंड, जोखू प्रसाद, संतोष गोंड, सोनू गोड, संतोष प्रसाद गोड, विनोद गोड, दीपक गोंड, अभय गोड, मोनू गोड, के अलावे सैकड़ों कि रात में शहादत के अवसर पर पुष्प अर्पित किया है लोगों ने बताया कि गुणवान के राजा शंकर शाह मंडावी और पुत्र रघुनाथ शाह मडवी के बलिदान दिवस सासाराम के काली कंकाली पेनठाना पर प्रतिवर्ष मनाया जाएगा कार्यक्रम को सफल बनाने में रोहतास जिला के गोड आदिवासी समाज के कार्यकर्ताओं की अहम भूमिका रही
प्रदेश अध्यक्ष सतनारायण सिंह ओइमा सासाराम के काली कंकाली पेनठाना पर राजा के तैल चित्र पर पुष्प अर्पित करते हुए