एनसीएल के कोयला उत्पादन में 10% की बढ़ोतरी*
*बिजली घरों को भी की 8% अधिक कोयले की सप्लाई*
कोयला उत्पादन में शानदार प्रदर्शन करते हुए नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) ने चालू वित्त वर्ष के पहले ग्यारह महीनों (अप्रैल से फरवरी तक) में 92.21 मिलियन टन कोयला उत्पादन किया है, जो गत वित्त वर्ष की समान अवधि में किए गए 83.95  मिलियन टन उत्पादन से लगभग 10% अधिक है एवं चालू वित्त वर्ष में 28 फरवरी तक निर्धारित लक्ष्य का लगभग 103% भी है।
एनसीएल ने चालू वित्त वर्ष में फरवरी तक अपने कोयला ग्राहक बिजली घरों को लगभग 8% अधिक कोयले की सप्लाई की है। कंपनी ने चालू वित्त वर्ष में 28 फरवरी तक बिजली घरों को 77.48 मिलियन टन कोयला दिया है, जबकि गत वित्त वर्ष की समान अवधि में एनसीएल ने 72.12 मिलियन टन कोयले की सप्लाई की थी।
इसी तरह, चालू वित्त वर्ष के पहले ग्यारह महीनों में एनसीएल ने बिजली घरों सहित अपने सभी कोयला ग्राहकों को कुल  92.75 मिलियन टन कोयले का प्रेषण (डिस्पैच) किया है, जो पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में किए गए कोयला डिस्पैच से लगभग 6% अधिक है। कंपनी ने वित्त वर्ष 2017-18 में इस अवधि में अपने सभी कोयला ग्राहकों को 87.68 मिलियन टन कोयले का प्रेषण किया था।
गौरतलब है कि चालू वित्त वर्ष में एनसीएल को 100 मिलियन टन कोयला उत्पादन एवं 100.50 मिलियन टन कोयला प्रेषण की जिम्मेदारी दी गई है। कंपनी ने फरवरी के अंत तक कोयला उत्पादन एवं प्रेषण के वार्षिक लक्ष्य का 92% से अधिक  हासिल कर लिया है। कंपनी के शानदार प्रदर्शन को देखते हुए उम्मीद है की कंपनी समय रहते इन लक्ष्यों को हासिल कर लेगी।