सूरत से कोरोना लेकर गिरिडीह पहुंचे तीन प्रवासी मजदूर, पॉजिटिव रिपोर्ट के बाद भेजे गए आइसोलेशन सेंटर

0
168
गिरिडीह जिले में तीन नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। रविवार देर रात पीएमसीएच से मिली रिपोर्ट के आधार पर गिरिडीह के डीसी राहुल कुमार सिन्हा ने इसकी पुष्टि की थी। इनमें से दो बिरनी प्रखंड के गोरायडीह एवं केंदुआटांड़ के तथा एक जमुआ प्रखंड के रेम्बा के रहने वाले हैं। तीनों प्रवासी मजदूर हैं और चार दिन पूर्व गुजरात के सूरत से अपने गांव लौटे थे। तीनों को प्रशासन ने गांव के ही एक सरकारी भवन में क्वारंटाइन कर दिया था। तीनों गांवों में फिलहाल निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है। पूरे गांव को सैनिटाइज्ड करने की तैयारी की जा रही है। तीनों के पूरे परिवार को भी संस्थागत क्वारंटाइन कर दिया गया है।
जमुआ प्रखंड के मंझलीटांड़ रेम्बा निवासी 30 वर्षीय प्रवासी मजदूर 6 मई को सूरत से अपने कुछ साथियों के साथ गांव लौटा था। प्रशासन ने सभी को गांव के ही बगल में स्थित उत्क्रमित प्राथमिक विद्यालय रेम्बा में क्वारंटाइन कर दिया था। यहां 17 मजदूर क्वारंटाइन हैं। युवक की रक्त जांच के लिए पीएमसीएच भेजा गया था। रविवार देर रात युवक के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की रिपोर्ट मिली। सोमवार की सुबह कोरोना पीड़ित उक्त युवक को गिरिडीह एएनएम स्कूल आइसोलेशन सेंटर भेज दिया गया।
इधर बिरनी प्रखंड के शाखाबाद पंचायत के गरायडीह एवं खरीडीह पंचायत के केंदुआटांड़ के रहने वाले दो प्रवासी मजदूर भी कोरोना पीड़ित मिले हैं। दोनों सूरत से लौटे थे। दोनों को प्रशासन ने गांव किनारे स्थित सामुदायिक भवन में क्वारंटाइन कर दिया था। दोनों के रक्त सैंपल जांच के लिए पीएमसीएच भेजा था। जांच में कोरोना वायरस की पुष्टि होने के बाद दोनों को सोमवार की सुबह गिरिडीह एएनएम स्कूल आइसोलेशन सेंटर भेज दिया गया है।  बगोदर के एसडीओ रामकुमार मंडल ने बताया कि दोनों गांवों में निषेधाज्ञा लागू कर दिया गया है।