हिमाचल प्रदेश शिमला अपने पुत्र की राजनीति को लेकर धर्म संकट में फसे ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा)( अनिल शर्मा को लेकर भाजपा संगठन में भी असमंजस स्थिति है भाजपा के बड़े नेता साफ तौर पर इस मामले पर कुछ नहीं बोल पा रहे हैं और पार्टी हाईकमान के निर्णय का इंतजार कर रहे हैं सरकार में भाजपा के मुख्य सचेतक नरेंद्र बरागटा ने इस मामले पर कहा कि ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा पर समय आने पर सर्जिकल स्ट्राइक होगी यहां पत्रकारों से बातचीत के दौरान नरेंद्र बरागट ने कहा की देश की सीमाओं की रक्षा नरेंद्र मोदी ही कर सकते हैं जिन्होंने यह करके दिखाया है नए भारत को उबरते हुए देखने के लिए जनता को सही विकल्प चुनना चाहिए नरेंद्र मोदी जैसे विकल्प कोई नहीं है हिमाचल मैं मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में भाजपा की सरकार विकास के लिए कृतसंकल्प है और बेहतर काम के लिए पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह का सर्टिफिकेट भी उन्हें मिला है जिसके पास वीरभद्र सिंह का सर्टिफिकेट हो तो उसे कांग्रेस से क्या लेना देना उन्होंने ताज कसते हुए कहा कि ऐसी स्थिति है कि उनके नेता चुनाव लड़ने के लिए भाग ले रहे हैं टिकट के लिए जहां राजनीतिक दलों में हाय तौबा की स्थिति होती हैं वहीं कांग्रेस के नेता भाग रहे हैं जिससे साफ जाहिर होता है कि कांग्रेस ने पहले ही हाथ खड़े कर दिए हैं