हिमाचल प्रदेश डिस्ट्रिक्ट शिमला मैं 25 करोड़ साल पुराने विशालकाय पेड़ का  अवशेष मिला)

हिमाचल प्रदेश के  शिमला इलाके में करोड़ों साल पुराना एक विशालकाय पेड़ के अवशेष मिले हैं राजधानी शिमला से 70 किलोमीटर दूर  खड़ापत्थर मैं यह अवशेष मिला है बताया जा रहा है कि यह अवशेष मैंसोजाईक जियोलॉजिकल ईरा के समय का है हिमाचल प्रदेश राज्य संग्रहालय के क्यूरेटर हरीश चौहान ने बताया कि  रोहड़ू के डीएफओ की ओर से पेड़ के अवशेष मिलने की सूचना मिली है हरीश  चौहान ने बताया कि अगले सप्ताह तक संग्रहालय की टीम मौके का दौरा करेगी उसके बाद ही बताया जा सकता है कि यह अवशेष और कितने करोड़ साल पुराना है जानकारी के अनुसार हिमाचल वन विभाग की एक टीम इलाके में पेड़ कटान को लेकर गश्त पर थी इसी दौरान उन्हें खड़ापत्थर मैं यह विशालकाय पेड़ का अवशेष मिला अनुमान लगाया जा रहा है कि जिस वक्त पृथ्वी पर डायनासोर हुआ करते थे यह अवशेष उनके जमाने का है शुरूआती जानकारी में पता चला कि यह अवशेष मैंसोजईक काल का है( क्या है यह मैंसोजाईक) भूवैज्ञानिको ने फैनोरोजजाईक  काल के अनुसार पृथ्वी के इतिहास को 3 हिस्सों में विभाजित किया गया है मैंसोजाईक काल हिस्से में आता है इस दौरान धरती पर डायनासोर पाए जाते थे मैंसोजाईक युग 252.2 मिलियन साल पहले शुरू हुआ और 66 मिलियन साल पहले समाप्त हो गया था