हिमाचल प्रदेश

0
1

हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा विधानसभा के मानसून सत्र मैं विधायकों मंत्रियों विधानसभा अध्यक्ष वह उपाध्यक्ष के यात्रा भत्तों में बढ़ोतरी के विधायक को सर्वसम्मति से पारित कर दीया गया लेकिन इस बढ़ोतरी को लेकर प्रदेश में जोरदार विरोध हो रहा है इसी कड़ी सुंदर नगर में भी समाजसेवी संस्था के युवाओं द्वारा व्यागयत्मक तरीके से विरोध किया गया समाजसेवा के कार्य करने वाले धर्मशाला के समाजसेवी अजय शर्मा ,बड़का भाऊ, की टीम ने सुंदरनगर के विश्राम गृह चौक से भोजपुर बाजार होते हुए प्रदेश सरकार के विधायकों के लिए भीख मांगी इसका स्थानीय लोगों सहित सुंदरनगर बाजार के व्यापारियों ने भरपूर सहयोग किया समाजसेवी अपने साथ बैनर लेकर चले जिसमें बड़े बड़े अक्षरों से लिखा हुआ था अति निर्धन विधायकों के लिए राहत निधि कोष 50 पैसे और 1 रुपय की सहायता ताकि विधायकों के बच्चे और परिवार भूखा ना मरे और अपना गुजारा अच्छे तरीके से करें इस दौरान समाजसेवी ने कहा कि प्रदेश में लाखों युवा बेरोजगार है और 2003 के बाद सरकारी कर्मचारियों की पेंशन बंद की है लेकिन सभी मुद्दों को पीछे छोड़कर सरकार और विपक्ष अपने विधायकों की सैलरी और यात्रा भत्ते बढ़ाने का काम कर रही है पहले विधायकों की ₹200000 रुपए सैलरी हुआ करती थी अब 400000 कर दी गई है बताया जा रहा है कि जो समाजसेवी ने लोगों से मंत्रियों के लिए भीख मांगी है वह उन्हें मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को सौंपने का मन बना चुके हैं ताकि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर अपने विधायकों को ज्यादा से ज्यादा सैलरी दे सके