हिमाचल

0
1

मॉक पोल डिलीट ना करने वाले दो पोलिंग पार्टियों पर लटकी निलंबन की तलवार)( हिमाचल प्रदेश सिरमौर जिला के भूटानपुर तथा ठियोग के बशीरा मतदान केंद्र मैं मॉक पोल डिलीट ना करने वाली पोलिंग पार्टियों पर निलंबन की तलवार लटक गई है चुनाव विभाग के आदेश पर ए आर ओ एवं उपमंडल अधिकारी ठियोग ने बशीरा मतदान केंद्र की पोलिंग पार्टी को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया गया है वही रिटर्निंग ऑफिसर एवं जिलाधीश शिमला ने इस मामले मैं चुनाव विभाग को जांच रिपोर्ट भेज दी है जिलाधीश सिरमौर से भूटानपुर मतदाता केंद्र की रिपोर्ट मिलने के बाद इस लापरवाही के लिए दोनों पोलिंग पार्टी को निलंबित किया जा सकता है इससे पहले भी इसी गलती के लिए चुनाव विभाग 5 मतदान केंद्र के लिए 5 पीठासीन अधिकारियों सहित 20 पोलिंग ऑफिसर्च को सस्पेंड कर चुकी है और संबंधित विभागों द्वारा इनके खिलाफ चार्जशीट तैयार की जा रही है मतगणना के दौरान 2 और मतदान केंद्र की पोलिंग पार्टी की लापरवाही पकड़ी गई है सूत्रों की मानें तो जिलाधीश शिमला की जांच रिपोर्ट में पीठासीन अधिकारी और पोलिंग ऑफिसर की लापरवाही बताई गई है पोलिंग पार्टी ने अपनी गलती चुनाव आयोग को बताने की वजह इस पर पर्दा डाले रखा इस वजह से 23 मई को मतगणना की गई तो ई वी एम मैं वास्तविक वोट से ज्यादा मत निकले बरीशा और भूटानपुर मैं पोलिंग पार्टी ने मतदान शुरू होने से पहले मॉक वोट डिलीट नहीं किए बाद में जब ध्यान आया तो मतदान प्रक्रिया के दौरान दोनों पोलिंग पार्टियों ने वी वी पी ए टी मैं कुछ वोट पड़े डिलीट कर दिए भारत निर्वाचन आयोग के आदेश अनुसार प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में 5-5 वी वी पी ए टी मैं पड़े मतों का मिलन ईवीएम से किया जाना था रेंडमाइजेशन के दौरान बरीशा और भूटानपुर मतदाता केंद्र की ईवीएम व वी वी पी ए टी को मिलान के लिए निकाला गया मतगणना के दौरान इन दोनों केंद्रों की ईवीएम व वीवीपीएटी मैं मिलान सही नहीं निकला इस पर चुनाव विभाग ने संज्ञान लिया है मॉक वोट डिलीट मामले में शिमला और सिरमौर जिलाधीशो से रिपोर्ट मांगी गई है रिपोर्ट मिलने के बाद इस मामले में आगामी कार्रवाई की जाएगी