यूरिया खाद की उपलब्धता एवं वितरण व्यवस्था में सुधार करें- संभागीय आयुक्त

कोटा । संभाग में किसानों को रवी के सीजन में यूरिया खाद की उपलब्धता के लिए संभागीय आयुक्त केसी वर्मा के निर्देश पर 7 हजार 7 सौ टन यूरिया की रैक दो दिवस में लगाई जायेगी।

सयुक्त निदेशक कृषि रामअवतार शर्मा ने बताया कि संभाग में यूरिया की मांग को ध्यान में रखते हुए संभागीय आयुक्त द्वारा अधिकारियों की बैठक लेकर पर्याप्त मात्रा में सप्लाई एवं वितरण व्यवस्था में सुधार के निर्देश दिये गये। उन्होंने बताया कि संभाग में दो दिवस में 7 हजार 7 सौ मैट्रिक टन यूरिया की रैक लगाई जाकर ग्राम सेवा सहकारी समितियों तक पहुचाने की कार्य वाही की जा रही है। उन्होंने बताया कि 2500 मैट्रिक टन यूरिया की रैक आइपीएल कम्पनी द्वारा लगाई जा रही है जिसमें 1 हजार मैट्रिक टन बारां जिले के लिए एवं 500-500 मैट्रिक टन कोटा, बूदी व झालावाड जिले के लिए उपलब्ध कराई जायेगी।

उन्होंने बताया कि 2 हजार मैट्रिक टन यूरिया खाद सीएफसीएल द्वारा सड़क मार्ग से सीधे ग्राम सेवा सहकारी समितियों तक पहुचाया जायेगा। जिसमें 600 मैट्रिक टन बारां जिले में एवं 400 बूंदी के लिए व 500-500 कोटा व झालावाड जिले के लिए उपलब्ध कराया जायेगा। उन्होंने बताया कि गुरूवार 20 दिसम्बर को 3200 मैट्रिक टन यूरिया खाद की रैक इफको द्वारा लगाई जा रही है। जिसमें से 950 मैट्रिक टन कोटा, 850 मैट्रिक टन बारां एवं 750-750 मैट्रिक टन बूंदी व झालावाड जिले के किसानों के लिए पहुचाई जायेगी। उन्होंने किसानों से आव्हान किया है कि यूरिया खाद की उपलब्धता में कमी नहीं आने दी जायेगी, मांग के अनुसार ही उपयोग करें एवं भंडारण नही करें।