Bhabani Sankar Nayak (Bhubaneswar, Odisha )

0
13

विश्वसनीय सूचना के आधार पर एसटीएफ की टीम ने गांव के पास छापेमारी की
बौध जिले के अंतर्गत मनमुंडा थाना अंतर्गत कापासीरा की बिक्री के सौदे के बारे में
वन्य जीव अपराधियों द्वारा तेंदुए की खाल आज यानी 21.07.2021 को, जिसके परिणामस्वरूप
एक आरोपी व्यक्ति (शिकारी) अर्थात् गांव के हारा राणा पुत्र लेफ्टिनेंट लक्षेश्वर राणा
घुचिंगी पी.एस. कांतमाल, जिला बौध को गिरफ्तार कर लिया गया। खोज के दौरान एक
तेंदुए की खाल, एक देश निर्मित एसबीएमएल गन, 12 नग बड़े आकार की शेष गेंद
गोला बारूद, 17 नग बचे, 25 नग छोटे खाली मामले, दो नग प्लास्टिक कंटेनर
से काला गन पाउडर और अन्य आपत्तिजनक सामग्री युक्त बरामद किया गया
उसका कब्जा। आरोपी व्यक्ति किसी भी वैध प्राधिकारी को पेश नहीं कर सका
ऐसे तेंदुए की खाल, हथियार और गोला-बारूद के कब्जे का समर्थन, जिसके लिए वह
गिरफ्तार किया गया है। इस संबंध में एसटीएफ पीएस केस नंबर 25 दिनांक 21.07.2021 यू/एस.
379/411/120 (बी) आईपीसी r / w.Sec.25 शस्त्र अधिनियम r / w। वन्य जीवन (संरक्षण) अधिनियम के 51,
1972 दर्ज किया गया था। जब्त तेंदुए की खाल को वन्य जीव संस्थान भेजा जाएगा
रासायनिक परीक्षण के लिए भारत, देहरादून। जांच जारी है।
विगत एक वर्ष के दौरान वन्य जीव अपराधियों/शिकारियों के विरुद्ध विशेष वाहन चालक
एसटीएफ ने 15 तेंदुए की खाल, 09 नग की खाल जब्त की है
हाथी दांत, 02 हिरण की खाल, 03 जीवित पैंगोलिन और 10 किलो पैंगोलिन तराजू और
28 वन्य जीवन अपराधियों को गिरफ्तार किया।
एसटीएफ ओडिशा में संगठित अपराध पर अंकुश लगाने के लिए ओडिशा पुलिस की विशेष शाखा है
राज्य। वन्य जीवन अपराध एसटीएफ के फोकस क्षेत्रों में से एक रहेगा और एसटीएफ होगा
वन्यजीव अपराध और अपराधियों के खिलाफ अपना अभियान जारी रखें