भभुआ: नगर परिषद सभापति ने लगाया कार्यपालक पदाधिकारी पर रिश्वत मांगने का आरोप!

13
57

UNA NEWS
विनोद कुमार राम
कैमूर।

भभुआ (बिहार) -नगर परिषद के निवर्तमान सभापति जैनेंद्र कुमार आर्य ने नगर के कार्यपालक पदाधिकारी दिनेश दयाल लाल पर योजनाओं को पूरा करने के लिए डेढ़ लाख रुपए मांगने का आरोप लगाया है। पूर्व चेयरमैन ने प्रेस वार्ता में आरोप लगाया कि दीनदयाल ने पूर्ण रूप से कार्य को अंजाम देने के लिए एक लाख 50 हजार रुपए मांगा है। उन्होंने आरोप लगाया कि कार्य पूरा होने पर दो हजार मतदाता की संख्या आप के चुनाव में जुड़ जाएगी।

ज्ञात हो कि नगर परिषद से निवर्तमान चेयरमैन के शासनकाल में 2 करोड़ 34 लाख 18 हजार 4 सौ रुपये का टेंडर पास कराया गया। नगर परिषद के वार्ड संख्या -12 खादी भंडार से सुरपाल गली तक (44 लांख),वार्ड -11,10 सदर हाॅस्पिटल चकबंदी रोड से वेद प्रकाश के धर तक एवं मदर शकुलता स्कूल से सचिदानंद गुप्ता के घर तक पी.सी.सी.रोड़ तक टेंडर पास करवाया गया।

उन्होंने आरोप लगाया कि वार्ड -12 में नगर पालिका बाउंड्री से फुल श्याम भवन तक निर्माण कार्य कराया। सभापति के कार्यकाल समाप्त होने पर वार्ड संख्या -12,10,11 बनाने के लिए 10 बार कार्यालय में संपर्क किया। नगर परिषद कार्यपालक पदाधिकारी दिनेश लाल लाल के द्वारा आचार संहिता का हवाला देकर टालमटोल किया गया।

निवर्तमान चेयरमैन जैनेंद्र कुमार आर्य ने कहा कि 10 नवंबर 2022 को उनके कार्यालय में अधूरे कार्य को पूरा करने का मांग किया तो उनके द्वारा यह कहा गया कि उक्त योजना को पूरा करने पर आपको नगर सभापति के चुनाव में दो हजार मतदाता जुड़ जाएंगे इससे हम को क्या लाभ है उन्होंने पूरा करने के लिए 1 लाख 50 हजार रुपए का मांग किया। उन्होंने कहा कि, मेरे द्वारा प्रतिरोध करने पर झूठे मुकदमे में फंसाने एवं चुनाव न लड़ने देने का धमकी दिया।

उन्होंने बिहार सरकार के मुख्यमंत्री, नगर निकाय मंत्री ,कैमूर जिलाधिकारी से दिनेश दयाल लाल पर कानूनी कार्रवाई किया जाए।

13 COMMENTS

  1. An interesting discussion is worth comment. I think that you should write more on this topic, it might not be a taboo subject but generally people are not enough to speak on such topics. To the next. Cheers

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here