तमाम सरकारों में दलित और आदिवासियों पर अत्याचार के मामलों में इजाफ़ा हुआ है:जितेंद्र भास्कर

5
52

यूनिवर्सल न्यूज़ एजेंसी
विनोद कुमार राम
कैमूर, भभुआ।

भभुआ (बिहार)- बहुजन समाज पार्टी के पूर्व प्रदेश सचिव जितेंद्र कुमार भास्कर ने आज एक प्रेस वार्ता में कहा कि एनडीए सरकार एवं महा गठबंधन सरकार के शासनकाल में दलितों एवं महा दलितों एवं आदिवासी परिवारों की हत्या और महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार और बलात्कार के मामलों में इजाफ़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि पूरे देश में एक सोची समझी साजिश के तहत अनुसूचित जाति जनजाति महिलाओं के साथ अत्याचार का सिलसिला जारी है।

उन्होंने कहां कि बिहार में महागठबंधन सरकार बनने के बाद दलित शोषित पर अत्याचार बढ़ोतरी हुआ है। लेकिन खेद के साथ कहना पड़ रहा है कि अति उग्रवाद क्षेत्र अधौरा में आदिवासी छात्रा के साथ बलात्कार हुआ। अभी वह बलात्कार का मामला ठंडा ही नहीं हुआ था कि दूसरी दलित छात्रा के साथ एक शिक्षक सहित 4 यादव परिवार के लोगों ने बलात्कार करके जिले का नाम बदनाम कर दिया। उसी प्रकार चांद थाना के मेढ़ गांव में अपराधियों ने किसान रामचंद्र राम को बेरहमी से हत्या कर दिया।

उन्होंने कहां कि घटनाओं का जिक्र किया जाए तो पुलिस प्रशासन ने अपराधियों का मनोबल बढ़ाने का कार्य किया हैं। एक तरफ से केंद्र एवं राज्य सरकार के द्वारा भारतीय सविधान निर्माता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के प्रतिमा पर माल्यार्पण कर रही है,वहीं दूसरी तरफ उनके समर्थक मूर्तियों को नष्ट करने के काम में दिन रात लगे हुए हैं।

उन्होंने केंद्र एवं राज्य सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि संविधान की रक्षा करें अन्यथा आने वाले दिनों में जनता जागृत हो जाएगी तो उसका अंजाम स्वयं भुगतना पड़ेगा। कैमूर जिले में हो रहे। लगातार हो रही बलात्कार की घटनाओं पर उन्होंने कहा कि चैनपुर भभुआ मोहनिया रामगढ़ के विधायक विधानसभा में सवाल उठाकर चुप्पी साधे हैं कारण कि घटना में सम्मिलित लोगों का वोट राजनीति के कारण चुप्पी साध के रखे हैं।

5 COMMENTS

  1. Bu biraz hırslı olan çiftler için kavga yaratabilecek
    bir öneri. büyük patlama yaratan bir oyun. Oyunda bir topsunuz (yanlış anlamayın ve lütfen elinizdeki Lightsaberı indirin) ve kendinizden küçük topları yemeye çalıştığınız bir oyun. ise onun bana kalırsa
    çok daha kaliteli bir versiyonu.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here