भाजपा ने बार बार कांग्रेस सीएम के चेहरे का नाम पूछकर तय कर दिया

मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह के आरोपों पर पूर्व स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल का पलटवार

भाजपा भूली अपना 180 सीटें प्रदेश में जीतने का ख्वाब, कांग्रेस को मिल रहे भारी जनसमर्थन से घन चक्कर हुए पडे है नरेंद्र मोदी व अमित शाह के गुलाम बने बीजेपी के सभी नेता

कोटा। 03 दिसंबर 2018 पूर्व स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल को कोटा उत्तर विधानसभा में आमजन का भारी जनसमर्थन मिल रहा है। जनता कांग्रेस में विश्वास दिखा रही है। 7 दिसंबर को विधानसभा चुनाव को लेकर मतदान होगा, ऐसे में प्रदेशभर की जनता जो भाजपा सरकार के पांच साल के कुशासन से त्रस्त होकर कांग्रेस के पक्ष में भारी संख्या में मतदान करेंगी। यह बयान पूर्व मंत्री धारीवाल ने सोमवार को कोटा उत्तर विधानसभा में पटरी पार क्षेत्र में मतदाताओं से घर-घर जाकर किए गए जनसंपर्क के दौरान आयोजित हुई नुक्कड सभाओं में कही हैं।

पूर्व मंत्री धारीवाल ने इस दिन महात्मा गांधी कॉलोनी, इस्लाम दरगाह, श्रीरामनगर, लोको कॉलोनी, रंगतालाब, चंचल विहार, सुंदर नगर, पुरोहित जी की टापरी, शिवाजी कॉलोनी, रामदासनगर, लक्ष्मीविहार, कालाजी की टापरी में घर-घर जाकर मतदाताओ से जनसंपर्क किया। जहां जनता का कांग्रेस को भारी समर्थन मिला।

धारीवाल का आमजन ने जगह-जगह स्वागत द्वार, फूलमालाओं, आतिशबाजी करके व साफा बांधकर भव्य स्वागत किया। और उन्हें मिठाईयों व फलों से तोला गया। लोगो ने इस दौरान क्षेत्र में उपजी जनसस्याएं बताई। धारीवाल ने लोगों को भरोसा दिलाया कि कांग्रेस की सरकार के बनते हुए एक-एक समस्या का लोगों की राय के अनुसार उनका वह समाधान करवाएंगे।

धारीवाल का भाजपा पर कडा प्रहार मोदी व शाह के गुलाम बने खडे है बीजेपी के वरिष्ठ नेता

पूर्ववर्ती कांग्रेस की अशोक गहलोत सरकार में केबिनेट व स्वायत्त शासन मंत्री रहे शांति धारीवाल ने सोमवार को कोटा प्रवास पर आकर कांग्रेस पार्टी, सोनिया व राहुल गांधी पर भाजपा नेता और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लगाए आरोपों पर कडा प्रहार व पलटवार करते हुए कहा कि शिवराज सिंह चौहान कांग्रेस पार्टी को एक खानदान की गुलाम पार्टी बताते है जबकि चौहान अपने घर पर जाकर आईना देखें, साल 2014 से वह और भाजपा का एक-एक नेता जो नरेंद्र मोदी व अमित शाह से उम्र व राजनीति करियर में वरिष्ठ होने के बावजूद गुलाम बने हाथ बांधकर खडे है।

पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी की मोदी व अमित शाह ने क्या हालत बनाई हुई है।

उन्हें भी हाथ जोडकर इन दोनों नेताओं के समक्ष खडा होना पड रहा है। जो कभी आडवाणी का चुनावी सभाओं में मायक पकडा करते थे। आज उनके हुक्कम की पालना करनी पड रही है। भाजपा इन दो नेताओं की गुलाम व जी हुजूरी करने वाली पार्टी बनकर रह गई है। जिनके सामने बीजेपी के किसी नेता का बस नहीं चलता है।

शिवराज सिंह के दूसरे आरोप कांग्रेस बीना दूल्हे के निकाल रही है बारात का जवाब देते धारीवाल ने कहा बीजेपी का हर नेता राजस्थान में कांग्रेस किसी चेहरे को मुख्यमंत्री बनाएगी। पूर्व मंत्री धारीवाल ने कहा भाजपा ने बार बार कांग्रेस सीएम के चेहरे का नाम पूछकर तय कर दिया राजस्थान की जनता बीजेपी की 7 दिसंबर को विदाई करेगी। प्रदेश में सत्ता का तख्ता पटल होगा और सरकार प्रदेश में कांग्रेस की बनेगी।

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सरकार के प्रति जनआक्रोश को देखकर मोदी से लेकर भाजपा का एक-एक कार्यकर्ता घन चक्कर हुए पडे है। इस चिंता में बीजेपी अपने 180 सीटें प्रदेश की जीतने का सपना तक भूल चुकी है। उन्हें सिर्फ यह चिंता सता रही है कांग्रेस की सरकार का मुख्यमंत्री चेहरा कौन होगा, जो उनकी भ्रष्टाचार व कुशासन की परतें उखाडेगा।