किसानों को धान की सीधे बीजाई के लिए करें जागरूक: उपायुक्त

0
13

By:सतीश बंसल
सिरसा: 17 जून।

उपायुक्त अजय सिंह तोमर ने कहा कि प्रदेश सरकार की ओर से खरीफ फसलों की बीजाई व अन्य कार्यों के लिए विभिन्न योजनाओं के तहत सब्सिडी पर मशीन उपलब्ध करवाई जा रही है। इन्हीं मशीनों में धान की सीधी बिजाई(डीएसआर) मशीन बहुत ही महत्वपूर्ण है, जिसके माध्यम से किसान धान की सीधे बीजाई करके न केवल पानी की बल्कि लेबर लागत की बचत कर सकते हैं। किसानों को इस मशीन के महत्व बारे जागरूक करते हुए इसके इस्तेमाल के लिए प्रेरित करें।

उपायुक्त वीरवार को खरीफ यंत्रीकरण स्कीम को लेकर जिला स्तरीय कार्यकारी समिति की बैठक ले रहे थे। इस दौरान उन्होंने स्कीम के तहत विभिन्न मशीनों के लिए आए आवेदनों की एक-एक कर समीक्षा करते हुए, उनके निपटान बारे आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से किसानों को 40 से 50 प्रतिशत तक की सब्सिडी पर विभिन्न कृषि यंत्र उपलब्ध करवाए जा रहे हैं। अधिकारी किसानों को न केवल इन योजनाओं बारे किसानों को जागरूक करें, बल्कि सब्सिडी पर उपलब्ध करवाई जा रहे कृषि यंत्रों के महत्व बारे भी बताएं, ताकि अधिक से अधिक किसान योजनाओं का लाभ उठाते हुए इनका इस्तेमाल करने बारे प्रेरित हो सकें। उन्होंने कहा कि जो भी किसान योजना के लिए सभी औपचारिकताएं पूरी करता है, उसे नियमानुसार जल्द से जल्द योजना का लाभ दिया जाए।

सहायक कृषि अभियंता विजय कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि खरीफ यंत्रीकरण स्कीम के तहत विभिन्न दस कृषि यंत्रों पर 40 से 50 प्रतिशत तक की सब्सिडी उपलब्ध करवाई जाती है। उन्होंने बताया कि इन कृषि यंत्रों में बीटी कॉटन सीड ड्रील, ट्रेक्टर मांउटेड स्प्रे पंप, ट्रेक्टर मांउटेड रोटरी वीडर, पावर टीलर आदि शामिल हैं। बैठक में उपनिदेशक कृषि बाबूलाल सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।