मंडी में हड़ताल,आढ़तियों ने ई नेम प्रणाली के विरोध में धरना देकर जताया रोष

1
13

UNA NEWS
सतीश बंसल
सिरसा।

सरकार की ओर से लागू की गई ई नेम प्रणाली के विरोध में आज से सिरसा मंडी में आढ़तियों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दी है। आज सुबह सिरसा मंडी में आढ़ती एसोसिएशन के प्रधान मनोहर मेहता के नेतृत्व में विरोध जुलूस निकाला गया और उसके बाद मार्केट कमेटी कार्यालय के समक्ष 11 बजे से 2 बजे तक धरना देकर विरोध प्रदर्शन किया गया। धरना प्रदर्शन में बड़ी संख्या में आढ़तियों ने भाग लेकर अपने गुस्से का इजहार किया।
पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत सिरसा मंडी के आढ़ती व अकाउंटेंट आज सुबह 10 बजे मंडी में एकत्र हुए। उसके बाद प्रधान मनोहर मेहता की अगुवाई में मंडी में जुलूस निकाला और सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए धरना स्थल मार्केट कमेटी कार्यालय के समक्ष पहुंचे। वहां पर 11 बजे से 2 बजे तक धरना दिया गया। धरने को अकाउंट, दलाल, मजदूर व किसान एसोसिएशन के साथ ही हरियाणा सब्जी मंडी एसोसिएशन ने भी अपना समर्थन दिया है। सब्जी मंडी एसोसिएशन के प्रदेश महासचिव गंगाराम बजाज ने धरनास्थल पर पहुंचकर सरकार की ई नेम प्रणाली को वापस लेने की मांग की। मंच संचालन आढ़ती महावीर शर्मा ने किया।

प्रधान मनोहर मेहता ने कहा कि सरकार द्वारा अनाज की खरीद ई-ट्रेडिंग करने के आदेश से किसान व आढ़तियों में बड़ी भारी नाराजगी है जबकि सदियों से किसान की फसल खुली बोली में आढ़तियों के माध्यम से बिकती आ रही है फसल खुली बोली में बिकने से किसान को अपनी फसल के अच्छे भाव मिलते हैं जबकि सरकार नए-नए फरमान जारी करके किसान व आढ़तियों को बर्बाद करने पर तुली हुई है। सरकार को फसल पहले की तरह खुली बोली में मंडी के आढ़तियों के माध्यम से खरीदनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार ने धान पर मार्केट फीस व एचआरडीएफ दोनों मिलाकर जो 1 प्रतिशत था उसे बढ़ाकर 4 प्रतिशत कर दिया है जिससे किसानों को बड़ा भारी नुकसान उठाना पड़ेगा। सरकार को तुरंत प्रभाव से धान पर मार्केट फीस 1 प्रतिशत करनी चाहिए और हर फसल खरीद पर आढ़तियों को 2.5 प्रतिशत कमीशन पूरा मिलना चाहिए। वरिष्ठ आढ़ती राजकरण भाटिया, सरदार मोहर सिंह, पूर्व प्रधान हरदीप सिंह सरकारिया, जिला चेयरमैन रूलीचंद गांधी, पूर्व उपप्रधान कीर्ति गर्ग, राजन बावा, सुनील आहूजा, धर्मपाल जिंदल, नरेंद्र धींगड़ा, महावीर शर्मा, राकेश वधवा अकाउंटेंट ने भी अपने विचार व्यक्त किए।

सभी वक्ताओं ने ई नेम प्रणाली का विरोध करते हुए कहा कि इससे मंडिया वीरान हो जाएंगी तथा आढ़ती बर्बाद हो जाएंगे। किसानों का आर्थिक शोषण मिलों द्वारा किया जाएगा लेकिन लगता है कि सरकार भविष्य में होने वाले नुकसान को समझ नहीं पा रही है। एसोसिएशन के सचिव दीपक मित्तल ने सभी का आभार व्यक्त किया जबकि उपप्रधान प्रेम बजाज ने आए हुए आढ़तियों व अन्य का स्वागत किया।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here