Jammu कोविड महामारी से जूझ रहे फ्रंट लाइन वर्कर्स के लिए कोविड वैक्सीन का इंतजार बुधवार को खत्म हो गया। वैक्सीन की पहली खेप जम्मू और कश्मीर संभाग में पहुंच चुकी है।

0
8

Jammu कोविड महामारी से जूझ रहे फ्रंट लाइन वर्कर्स के लिए कोविड वैक्सीन का इंतजार बुधवार को खत्म हो गया। वैक्सीन की पहली खेप जम्मू और कश्मीर संभाग में पहुंच चुकी है। पहले दिन चिन्हित किए गए प्रत्येक केंद्र पर 100-100 चिकित्सा कर्मियों को वैक्सीन दिए जाने की व्यवस्था की गई है।
14 और 15 जनवरी को आएगा मैसेज
मुख्य चिकित्सा अधिकारी जम्मू डॉ. जेपी सिंह ने बताया कि शनिवार को प्रस्तावित वैक्सीन अभियान से पहले दिन के लाभार्थी चिकित्सा कर्मियों को ईविन एप के माध्यम से वैक्सीन का समय, स्थान और दिन के बारे में जानकारी दी जाएगी। यह मैसेज 14 और 15 जनवरी को मिलेंगे। इसके लिए चिकित्सा कर्मियों को बताया गया है। पहले दिन की वैक्सीन प्रक्रिया में स्वीपर, पैरा मेडिकल स्टाफ, डॉक्टर आदि शामिल होंगे। इसके लिए तैयारियां की जा रही हैं।

पहले दिन के बाद आगामी सोमवार से जम्मू जिले के सभी नौ ब्लॉकों पर सीएचसी और अन्य कुछ चिकित्सा केंद्रों पर वैक्सीन अभियान चलेगा। शहरी स्तर पर जीएमसी, साइकाइट्री, सीडी, सरवाल, सुपर स्पेशलिटी और गांधीनगर अस्पताल में भी वैक्सीन प्रक्रिया चलेगी। वैक्सीन के दूसरे चरण में इसे पीएचसी स्तर पर शुरू किया जाएगा। वैक्सीन की गुणवत्ता और सुरक्षा को बरकरार रखने के लिए 680 कोल्ड चैन स्थापित किए गए हैं।
फ्रंटलाइन वर्करों के लिए वरदान साबित होगी वैक्सीन : निदेशक
स्वास्थ्य निदेशक जम्मू डॉ. रेणु शर्मा ने कहा कि कोविड वैक्सीन फ्रंट लाइन वर्कर्स चिकित्सा कर्मियों के लिए वरदान साबित होगी। वह अधिक ऊर्जा के साथ कोविड का सामना करने के साथ अपने मरीजों की बेहतर देखभाल कर सकेंगे। वैक्सीन से फ्रंटलाइन वर्करों के साथ आम लोगों में आत्मविश्वास बढ़ेगा।