SAHIDO KI YAD OR NETAO SE APEEL
आज जहां पूरे देश में आतंकवाद में शहीद हुए सैनिकों को श्रंद्धाजलि दी जा रही है और पकिस्तान के खिलाफ पूरा देश एक जुट होकर खड़ा है लोग पकिस्तान की गिरफ्त में आये जांबाज सैनिक पायलट अभिनन्दन की सकुशल वतन वापसी के लिए दुवाएँ कर रहे थे  इस समय देश में होली और दिवाली से बड़ा जश्न का माहौल है लोग भारत माता की जय बोल रहे है तो कही हिंदुस्तान जिंदाबाद के नारो के साथ पूरा देश गुंजाय मान है तो वही कानपुर देहात जनपद में भी नन्हे मुंन्हे बच्चों ने कुपवाड़ा में शहीद हुए सैनिकों के लिये एक कार्यक्रम के माध्यम से श्रदाजंली दी और पाकिस्तान की गिरफ्त में आये जाबांज सैनिक अभिनंदन के लिये सकुशल वतन वापसी पर दुआयें की । नन्हे मुंन्हे स्कूली छात्र छात्राओं ने एक साथ देश की सलामती , सैनिको के आत्मबल के लिए और पाकिस्तान द्वारा पकड़े गए जाबांज सैनिक की सही सलामत वापसी के लिए दुआ मांगी । स्कूल के नन्हे मुंन्हे बच्चों के द्वारा किये गये इस प्रकार के कार्यक्रम ने मौजूद सभी लोगो को भाव विभोर कर दिया देश भक्ति से भरे बच्चों के जज्बे को सभी ने सलाम किया वही कार्यक्रम में एक छात्रा ने पुलवामा में हुए हमले को लेकर एक गीत सुनाया जिसे सुनकर लोग भाव विभोर हो गए गीत के माध्यम से ये सन्देश दिया गया कि हमारे देश में हमे आतंकियों से अधिक अपनों से धोखा है यहाँ गरीब और किसान के बेटा सेना में जाता है किसी नेता का बेटा सेना में नही जाता है गरीब परिवरों को गर्व है कि उन्होंने अपने बेटे को देश की सेवा के लिये सेना में भेजा है आज हमारे जाबांज सैनिकों ने पुलवामा हमले का बदला दिया लिया जिससे देश को अपने सैनिकों पर गर्व है पाकिस्तान द्वारा भारत में हवाई हमला करने आये F16 विमान को हमारे जाबांज पायलट अभिनंदन ने मार गिराया और तकनीकी खराबी आने के कारण उनका भी जहाज क्रैश हो गया जो पाकिस्तान सीमा में गिरा और अभिनंदन पाकिस्तान की गिरफ्त में आ गया हमारे जाबांज सैनिक ने पाकिस्तान में भारत माँ जिंदाबाद के नारे लगाते हिदुस्तान के हौसले को बुलंद रखा  वही लोगो की माने तो स्कूल के छात्र छात्राओं ने पुलवामा हमले को लेकर एक कार्यक्रम किया था जिसमे हमारे देश के वीर सैनिकों को श्रदांजली दी गयी और अभिनंदन की वापसी के लिये दुआ की गयी
वही अंतर्राष्ट्रीय महिला खिलाडी और समाज सेवियों ने भी माना कि हमारे देश के गरीब और मजदूर परिवारों के बेटे सेना में जाते है किसी नेता का बेटा देश सेवा में नही जाता उनकी मांग है है देश के नेताओ के बेटे भी देश सेवा के लिये सेना में जाने चाहिये जिससे नेता सैनिकों के साथ हो रहे दुर्व्यवहार और शहीद होने पर उसका दुःख समझे और उसमें गलत राजनीती न करे