Kolkata- राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत दो दिवसीय यात्रा पर मंगलवार को कोलकाता पहुंचे

0
173

Kolkata, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत दो दिवसीय यात्रा पर मंगलवार को कोलकाता पहुंचे। इस दौरान वह बंगाल में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संगठनात्मक पहलुओं पर गौर करेंगे। आरएसएस के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने बताया कि भागवत संगठन पदाधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। पदाधिकारी ने कहा, ‘‘वह आरएसएस कार्यालय में पदाधिकारियों से मिलेंगे। महामारी के कारण वह किसी अन्य स्थान पर नहीं जाएंगे। हमारे संगठन से संबंधित मुद्दों और महामारी के दौरान किए गए कल्याणकारी कार्यों पर चर्चा की जाएगी।’’
दरअसल बंगाल में 2021 विधानसभा चुनाव से पहले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) राज्य में अपनी पैठ मजबूत करना चाहता है। सरसंघचालक मोहन भागवत 24 सितंबर तक कोलकाता में रहेंगे और यहां संघ के पदाधिकारियों के साथ संगठनात्मक बैठक के बाद 25 सितंबर की सुबह ओडिशा जायेंगे।
आरएसएस के वरिष्ठ पदाधिकारी ने बताया कि श्री भागवत कोलकाता प्रवास के दौरान संघ के सहयोगी संगठन आरोग्य भारती, शिक्षा भारती, क्रीड़ा भारती, सक्षम (शारीरिक रूप से विकलांगों के लिए), सेवा भारती के प्रमुखों के साथ बातचीत करेंगे। ये संगठन बंगाल में अब तक की उपलब्धियों और उनकी समस्याओं से सरसंघचालक को अवगत करायेंगे और भविष्य की योजनाएं भी बनायेंगे।
अगस्त 2019 के बाद से श्री भागवत की राज्य की चौथी यात्रा होगी
उल्लेखनीय है कि ब्लॉक स्तर पर संघ को मजबूत करने के उद्देश्य से अगस्त 2019 के बाद से श्री भागवत की राज्य की चौथी यात्रा होगी। इससे पहले आरएस प्रमुख पिछले साल 1 अगस्त, 31 अगस्त और 19 सितंबर को कोलकाता आये थे।पिछले प्रवास के दौरान श्री भागवत ने बंगाल में स्वयंसेवकों को मुस्लिम समुदाय या अल्पसंख्यकों के साथ जुड़ने के लिए कहा था, जो राष्ट्रवाद में दृढ़ता से विश्वास करते हैं। उन्होंने स्वयंसेवकों से अपील की थी कि आम लोगों से जुड़ें और समाज सेवा के कार्यों से उन्हें अवगत करायें।(UNA)