कोटा में सेमटेल वर्क्स समिति की ओर से सेमटेल फैक्ट्री गेट पर काफी आक्रोश के साथ सेमटेल प्रबंधकों के विरुद्ध विरोध प्रदर्शन किया गया।

जिसमें कि उपस्थित सभी श्रमिकों ने बताया कि फैक्ट्री प्रबंधकों की ओर से नियुक्त किये गए मैनेजर मनोज द्विवेदी एंव इंसोल्वेंसी के संजय गुप्ता ने आपस मे सांठ-गांठ कर फैक्ट्री की सम्पतियों को चोरी करवाया जा रहा है। लाखों-करोड़ों का माल खुर्द-बुर्द कर दिया जा रहा है। बाहरी व्यक्तियों को फैक्ट्री परिसर में छुपा कर रखा हुआ है, ट्रेक्टर-ट्राली व अन्य उपकरण फैक्ट्री के गेट की सील तोड़ कर फैक्ट्री में अंदर पहुंचा दिए, जिससे कि आसानी से सामान बाहर निकालने के लिए उनका उपयोग किया जा सके।

श्रमिकों ने बताया कि आज छह वर्ष से ज्यादा समय बीत चुका है किंतु फैक्ट्री मालिक सतीश कौरा, पुनीत कौरा ने 1800 श्रमिकों को आज तक भी पूर्ण भुगतान नही किया है।

श्रमिक वर्ग लगातार अपने भुगतानों को प्राप्त करने हेतु स्थानीय प्रशासन, जनप्रतिनिधियों, सरकार, एंव न्यायालयों के चक्कर काट रहें हैं। सरकार एंव नेता इस गम्भीर मुद्दे पर मौन धारण कर बैठे है। श्रमिकों ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि प्रबंधकों ने शीघ्र ही सभी श्रमिकों को उनके बकाया 107 करोड़ रुपयों का भुगतान नही किया तो श्रमिक वर्ग सड़कों पर उतर कर विरोध प्रदर्शन करेंगे।
सेमटेल वर्क्स समिति अध्यक्ष मिलन शर्मा श्रमिक प्रतिनिधि अनवर खान, जुगल किशोर, मोहम्मद इसरार आदि ने बताया कि इसकी लिखित शिकायत एंव सूचना पुलिस थाना बोरखेड़ा को भी दे दी गयी है।