Lucknow, किसानों को पराली जलाने से रोकने के लिए योगी सरकार सख्त कार्रवाई कर रही है

0
117

Lucknow, किसानों को पराली जलाने से रोकने के लिए योगी सरकार सख्त कार्रवाई कर रही है। कई जिलों में किसानों पर एफआईआर दर्ज की गई है तो कई जगह उनके साथ दुर्व्यवहार के वीडियो भी वायरल हो रहे है। ऐसे में विपक्ष ने किसानों के उत्पीड़न करने का आरोप लगाते हुए योगी सरकार पर निशाना साधा।
बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट कर कहा कि उत्तर प्रदेश में फैले प्रदूषण को लेकर खासकर यहाँ पराली जलाने की आड़ में किसानों के साथ हो रही जुल्म-ज्यादती अति निन्दनीय है। जबकि इस मामले में सरकार को कोई भी कार्रवाई करने से पहले उन्हें (किसानों) जागरूक करने व जरूरी सहायता देने की भी जरूरत है। बसपा की यह मांग है।
इसके अलावा, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट किया कि पर्यावरण प्रदूषण के बहाने पराली जलाने के नाम पर किसानों को जेलों में डालने वाले महानुभाव बताएं कि राजनीतिक प्रदूषण फैलानेवालों को जेल कब होगी। उन्होंने कहा कि किसान अब भाजपा का खेत खोद देंगे।
प्रियंका गांधी ने पूछा- प्रदूषण फैलाने के असली जिम्मेदारों पर कार्रवाई कब होगी
कांग्रेस की यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी योगी सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि क्या प्रदूषण के लिए सिर्फ किसान जिम्मेदार हैं? प्रदूषण फैलाने के असली जिम्मेदारों पर कार्रवाई कब होगी?
उन्होंने कहा कि किसान का वोट- कानूनी, किसान का धान- कानूनी, किसान की पराली- गैरकानूनी? उत्तर प्रदेश सरकार ने सहारनपुर में किसानों को जेल में डाला। उन्हें छुड़वाने के लिए कांग्रेस के साथियों का धन्यवाद।(UNA)