Madhya Pradesh

0
3
राख विसर्जन करने नदी पर गए यादव परिवार के चार युवक बहे

एक को बचाया, एक शव बरामद
रेस्क्यू टीम और स्थानीय प्रशासन ने संभाला मोर्चा
सौंसर : मंगलवार को राख विसर्जन करने छिंदवाडा मार्ग की रामाकोना स्थित कन्हान नदी के तट पर गए एक परिवार के चार युवक नदी के बहाव में बह गए. इनमें से एक को बचा लिया गया. घटना की सूचना मिलने के बाद में तहसीलदार, पुलिस प्रशासन स्वास्थ्य विभाग ने पहुंचकर मोर्चा संभालते हुए युवकों को खोजने की कार्रवाई शुरू की. डेढ़ घंटे के बाद एक युवक की लाश मिली. छिंदवाड़ा से आई रेस्क्यू टीम के द्वारा दो युवकों की तलाश की जा रही है.
मिली जानकारी के अनुसार सौंसर नगर के वार्ड नं. 12 जेन मंदिर परिसर निवासी यादव परिवार के यहां 3 दिन पूर्व एक गमी हुई थी, जिसकी अस्थियां विसर्जन के लिए पूरा परिवार मंगलवार को सुबह 11 बजे के लगभग नागपुर-छिंदवाड़ा मार्ग की रामाकोना के पास बनी कन्हान नदी पर पहुंचा था. राख विसर्जन की प्रक्रिया और मुंडन करने के बाद परिवार के 4 लोग नदी में स्नान के लिए उतरे थे.
गहराई में जाने से बिगड़ा युवकों का संतुलन
स्नान करने को लेकर युवक सौरभ कुंदनलाल यादव (26) निवासी भंडारकुंड, अंकित राजेंद्र यादव (22) छिंदवाड़ा, अनिकेत संजय यादव (18) सौंसर, नदी में उतरे और धीरे-धीरे नदी के बीचोंबीच में जाने लगे. इस दौरान यहां पर रहने वाले मछुआरों ने नदी से थोड़ा सा दूरी पर गहरीकरण होने की जानकारी भी दी.
ये तीन युवक तब तक आगे बढ़ गए थे जिसके बाद गहरे पानी में जाने से युवकों का संतुलन बिगड़ गया और नदी में बहते चले गए. इन तीनों को बचाने के लिए राजेंद्र यादव भी नदी में कूदे, राजेंद्र यादव को बहते देख नदी पर उपस्थित लोगों के द्वारा राजेंद्र को पकड़ कर बाहर निकाला. तीनों युवक सौरभ, अंकित, अनिकेत नदी के बहाव में आगे बहते चले गए. 108 एंबुलेंस की मदद से राजेंद्र को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सौंसर में लाकर उपचार किया जा रहा.