कोटा। राजस्थान ब्राह्मण महासभा के प्रदेश अध्यक्ष व ऑल इण्डिया ब्राह्मण फेडरेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष व सरदार शहर विधायक पंडित भंवरलाल शर्मा को कांग्रेस की गहलोत सरकार द्वारा मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किये जाने पर कोटा में भी राजस्थान ब्राह्मण महासभा द्वारा विरोध जताते हुए नाराजगी व्यक्त की है।

महासभा के प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजेन्द्र शर्मा (रम्मू पंडित) शहर जिलाध्यक्ष गजेन्द्र शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष प्रेमनारायण शर्मा, हनुमान शर्मा, जिला महामंत्री परसराम शर्मा, जयप्रकाश शर्मा, जटाशंकर शर्मा, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य नीरज शर्मा, वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष श्रीमती रेखा, अविनाश त्यागी, युवा जिलाध्यक्ष आनन्द मिश्रा, श्रीमती रजनी शर्मा, महिला जिलाध्यक्ष श्रीमती राजेश शर्मा ने संयुक्त बयान जारी कर कहा है कि पंडित भंवरलाल शर्मा ब्राह्मण समाज के ही नहीं अपितु 36 कौम के सर्वमान्य एवं लोकप्रिय नेता हैं। आमजन का उन्हें भरपूर समर्थन प्राप्त होने से ही वे सातवीं बार विधायक चुने गये हैं। महासभा ने चेतावनी दी है कि यदि कांगे्रस की गहलोत सरकार द्वारा पुर्नविचार कर पंडित भंवरलाल शर्मा को मंत्रिमंडल में उचित स्थान नहीं दिया जाता है तो आने वाले लोकसभा चुनाव में ब्राह्मण समाज कांग्रेस के खिलाफ मतदान करेगा।