Mullah Baradar से मिला जैश सरगना Masood Azhar, भारत पर हमले के लिए मांगी मदद

0
48

काबुल: अफगानिस्तान (Afghanistan) पर तालिबान (Taliban) के कब्जे के बाद भारत के लिए सुरक्षा खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है. आशंका जताई जा रही है कि अब अफगानिस्तान पाकिस्तानी (Pakistan) आतंकियों के लिए सेफ हेवन बन सकता है.
कंधार में मसूद-बरादर की हुई मुलाकात
सूत्रों के मुताबिक आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद (Jaish e Mohammad) के सरगना मसूद अजहर (Masood Azhar) ने तालिबानी (Taliban) नेता मुल्ला बरादर (Mullah Baradar) से मुलाकात की है. यह मुलाकात 17 से 19 अगस्त के बीच अफगानिस्तान के कंधार प्रांत में हुई. इस बैठक का इंतजाम ISI ने करवाया था.सूत्रों के मुताबिक मसूद अजहर (Masood Azhar) अब्दुल राउफ के साथ मुल्ला गनी बरादर से मिला. मुलाकात में मसूद अजहर ने तालिबान (Taliban) से कहा कि वह अब भारत को केंद्र में रखकर अब अपने ऑपरेशन शुरू करे. मसूद अजहर ने बरादर से कहा कि जैश के कश्मीर ऑपरेशन को पूरा करने में तालिबान उसकी मदद करे. पाकिस्तान को मिला पांव पसारने का मौका
बताते चलें कि पाकिस्तान की सपोर्ट से तालिबानी इस 15 अगस्त को राजधानी काबुल समेत अफगानिस्तान के अधिकतर हिस्से पर कब्जा कर चुका है. उसके कब्जे से पहले ही अफगानी राष्ट्रपति अशरफ गनी देश छोड़कर संयुक्त अरब अमीरात चले गए. हालात खराब होने के बाद भारत समेत अधिकतर देश अफगानिस्तान से अपने राजनयिकों को वापस बुला चुके हैं. जिसके बाद पाकिस्तान वहां पर अपने पैर पसारने का पूरा मौका मिल गया है.