Mumbai : महाराष्ट्र:- केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले सुप्रीम कोर्ट के फैसले का किया सम्मान,परन्तु आरक्षण के खिलाफ नहीं

0
83

Mumbai : महाराष्ट्र में मराठा आरक्षण के मुद्दे पर सियासत गर्म हो चुकी है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा मराठा आरक्षण की याचिका को रद्द किए जाने के बाद अब राज्य में सियासी भूचाल आ चुका है। बीजेपी ने इस मुद्दे पर महाविकास अघाड़ी सरकार पर हमला शुरू किया है। आपको बता दें कि महाराष्ट्र में सैकड़ों विधायक मराठा समाज से आते हैं। फिलहाल इस मुद्दे पर राज्य की तिकड़ी सरकार की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। जब नेताओं और मंत्रियों से संपर्क किया गया तो सबने इस मुद्दे पर सवाल से बचने की कोशिश की।
हालांकि इस बीच टीम ने आरपीआई प्रमुख और केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले से मराठा आरक्षण के मुद्दे पर बात की तो उन्होंने कहा, ‘ मैं सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करता हूं लेकिन मराठा समाज को आरक्षण मिलना चाहिए था। सिर्फ महाराष्ट्र ही नहीं बल्कि देशभर के क्षत्रिय समाज के गरीब लोगों को शिक्षा और रोजगार में आरक्षण की जरूरत है। इस बारे में मैंने आवाज भी उठाई थी। अब इस मुद्दे पर केंद्र सरकार को पहल करनी चाहिए मैं खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खत लिखकर मराठा समाज को आरक्षण दिए जाने की मांग करूंगा।