टिकट चैकिंग से ‘‘एक माह में सर्वाधिक ‘‘ 2 करोड 45 लाख रूपये जुर्माना वसूला

इस साल अब तक कुल 12 करोड रूपये जुर्माना वसूला गया

कोटा । मण्डल रेल प्रबन्धक श्री यू.सी. जोषी के मार्गदर्षन में एवं वरिष्ठ मण्डल वाणिज्य प्रबन्धक श्री विजय प्रकाष के नेतृत्व में तथा टिकट चैकिंग मामलों के प्रभारी सहायक वाणिज्य प्रबन्धक श्री परमदीप सिंह सैनी व उनकी टिकट चैकिंग की सम्पूर्ण टीम ने कोटा मण्डल के विभिन्न रेल खण्डों में निरन्तर ताबडतोड टिकट चैकिंग अभियान चला रखे हैं ताकि बिना टिकट और अनुचित टिकट या सामान बुक किए बिना रेल यात्रा करने वालों की रोकथाम की जा सके ।

इसी के फलस्वरूप कोटा मण्डल में नवम्बर माह में कुल 2 करोड 45 लाख रूपये का जुर्माना वसूला गया है जो कि मण्डल के 62 साल के इतिहास में अब तक का एक माह में सर्वाधिक जुर्माना वसूली का नया कीर्तिमान है । इससे पहले मई 2018 में बिना टिकट, अनुचित टिकट यात्रा करने वालांे से 2 करोड 9 लाख रूपये जुर्माना वसूला गया था ।

निरन्तर चलाये जो रहे अभियानों के परिणामस्वरूप नवम्बर 2018 में कुल 46829 मामले पकडे गये हैं जबकि पिछले साल नवम्बर 2017 में कुल 28897 मामले पकडे गये थे अर्थात पिछले साल की तुलना में 62 प्रतिषत अधिक मामले इस साल पकडे गये हैं और रेलवे बोर्ड द्वारा दिये गये लक्ष्य 36120 की तुलना में 29.6 प्रतिषत मामले अधिक धरदबोचे गये हैं । इसी प्रकार इस साल नवम्बर 2018 में कुल 2 करोड 45 लाख 17 हजार रूपये जुर्माना वसूला गया है जो कि विगत साल नवम्बर 2017 के 1 करोड 40 लाख 64 हजार रूपये की तुलना में 74.32 प्रतिषत अधिक जुर्माना वसूला गया और रेलवे बोर्ड द्वारा दिये गये लक्ष्य 1 करोड 75 लाख 81 हजार की तुलना में भी जुर्माना वसूली लगभग 40 प्रतिषत अधिक है ।

यदि पूरे साल के अब तक के आॅंकडों पर नजर डालें तो इस साल यानि अप्रैल 2018 से लेकर नवम्बर 2018 तक कुल 12 करोड रूपये जुर्माना वसूला जा चुका है और अब तक इस साल नवम्बर 2018 तक कुल 2 लाख 39 हजार 224 मामले पकडे गये हैं ।