Odisha: कमिश्नरेट पुलिस ने शुरू की 21 साल पुराने अनसुलझे हत्याकांड की जांच

0
62

राउरकेला : सुंदरगढ़ जिले में गो हत्या व तस्करी बढ़ने पर बजरंगदल की ओर से चिता प्रकट की गई। इस पर रोक लगाने की मांग को लेकर दल के कार्यकर्ताओं ने उदितनगर मैदान से रैली निकाल कर एडीएम कार्यालय के समक्ष विरोध-प्रदर्शन किया। शीघ्र कार्रवाई करने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन प्रेषित किया है। बजरंगदल के जिला संयोजक शंकर वर्मा की अगुवाई में दल की ओर से गो हत्या व तस्करी रोकने को लेकर प्रदर्शन किया गया। वर्मा ने बताया कि सुंदरगढ़ जिले में धड़ल्ले से गो तस्करी व हत्या कर प्रतिबंधित मांस की बिक्री हो रही है। जिले के प्रमुख पशु बाजारों से गोवंश को खरीद कर पैदल एवं वाहनों से व्यापारी एक जगह जमा कर रहे हैं। कुतरा ब्लाक का खतकुलबहाल इसका मुख्य केंद्र है। यहां से पैदल रायबोगा, बीरमित्रपुर, पुरनापानी, नुआगांव होते हुए झारखंड एवं पश्चिम बंगाल के कसाई खानों में भेजा जा रहा है। लॉकडाउन के दौरान सभी तरह के प्रतिबंध होने के बावजूद इस पर रोक नहीं लगी है। राज्य में पशु उत्पीड़न कानून लागू होने के बावजूद गोवंश को पैदल भूखे प्यासे एवं मारपीट कर ले जाने वालों पर कार्रवाई नहीं की जा रही है। यदि कोई बजरंगदल या अन्य संगठन आवाज उठाते हैं तो उन्हें फर्जी मामले में गिरफ्तार किया जा रहा है। एडीएम कार्यालय में प्रदर्शन करने के बाद बजरंगदल की ओर से मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंप कर शीघ्र कार्रवाई करने की मांग की गई है। गाय-बैल की चोरी में दो आरोपित गिरफ्तार : सबडेगा ब्लाक के तुमलिया इलाके से गाय-बैल चोरी कर बेचने के आरोप में दो युवकों को गिरफ्तार किया गया। तुमलिया, रासीपतरा, सबडेगा क्षेत्र से गाय बैल चोरी होने की शिकायत थाने में दर्ज की गई थी। इसकी जांच कर रही पुलिस को पता चला कि कुछ लोग इनकी चोरी कर तस्करों को बेच रहे हैं। तुमलिया गांव के कबिराज बारिक के घर से दो बैलों की चोरी कर ले जाने के दौरान ग्रामीणों ने अरु प्रधान और दीनू नायक को पकड़ा और उनकी धुनाई करने के बाद पुलिस के हवाले किया। उन्होंने पहले भी कुछ गाय व बैलों को चोरी कर बेचने की बात स्वीकार की है।