Patna आरक्षण पर जनता दल यूनाइटेड के प्रवक्ता अजय आलोक ने ऐसा राग छेड़ा कि सीएम नीतीश कुमार को सफाई देनी पड़ी।

9
254

Patna आरक्षण पर जनता दल यूनाइटेड के प्रवक्ता अजय आलोक ने ऐसा राग छेड़ा कि सीएम नीतीश कुमार को सफाई देनी पड़ी। उन्होंने पटना में पत्रकारों से कहा कि आरक्षण का लाभ जिनको मिल रहा है उनके परिवार को ये लाभ मिलते रहना चाहिए। इसे रोकने का सवाल ही नहीं है। इससे पहले अजय आलोक ने ट्वीट कर कहा था कि परिवार में किसी एक सदस्य को आरक्षण का फायदा मिल जाए उसके बाद ये सिलसिला बंद होना चाहिए। हालांकि नीतीश कुमार ने जाति के आधार पर जनगणना की मांग एक बार फिर कर दी। उनके धुर विरोधी लालू यादव भी ये मांग करते आए हैं।

अजय आलोक का नाम लिए बिना नीतीश कुमार ने आरक्षण पर उनकी राय को खारिज कर दिया। मुख्यमंत्री ने कहा …अब तो आर्थिक आधार पर भी आरक्षण का प्रावधान कर दिया गया है। मेरे हिसाब से ऐसा कुछ नहीं है कि आरक्षण का प्रावधान है उसमें कोई बदलाव होगा। हमारे यहां पिछड़ा वर्ग और अति पिछड़ा वर्ग को जननायक कर्पूरी ठाकुर के समय आरक्षण मिल रहा है। हम चाहते हैं कि केंद्र सरकार से भी ये हो जाए। किसी को वंचित करने की बात नहीं होनी चाहिए।
हम बार-बार विधानसभा से प्रस्ताव पारित कर केंद्र सरकार को भेज चुके हैं कि एक बार जातिगत गणना हो जाए। आजादी के पहले ही ये बंद हो गया. ऐसा हो जाने से कम से कम एक-एक चीज की सही जानकारी मिल जाएगी। किस जाति के कितने लोग हैं, उनके लिए क्या करना चाहिए, ये तय करना आसान हो जाएगा। आरजेडी नेता लालू यादव भी लगातार जातीय जनगणना की मांग करते आए हैं।

9 COMMENTS

  1. This is the fitting weblog for anybody who desires to find out about this topic. You notice a lot its virtually onerous to argue with you (not that I truly would need…HaHa). You undoubtedly put a brand new spin on a topic thats been written about for years. Great stuff, simply nice!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here