Ranchi  ड्रग्स कंट्रोल विभाग की गुमला व रांची की टीम ने मंगलवार को नयाटोली सिमलिया में संयुक्त रूप से छापेमारी कर करीब एक करोड़ की नशीली दवा जब्त की है

0
143
Ranchi ड्रग्स कंट्रोल विभाग की गुमला व रांची की टीम ने मंगलवार को नयाटोली सिमलिया में संयुक्त रूप से छापेमारी कर करीब एक करोड़ की नशीली दवा जब्त की है. हालांकि, नशीली दवा का कारोबार करने वाले बोड़ेया कांके निवासी अंबुज सिंह, नयाटोली सिमलिया के रितेश उर्फ छोटू सिंह व मंटू सिंह फरार हो गये.
लोकेश सिंह नामक व्यक्ति के घर से अंबुज सिंह की बाइक (जेएच01सीएक्स-4053) पुलिस ने बरामद कर ली है. जानकारी के अनुसार, रविवार को रायडीह (गुमला) में चेकिंग के दौरान पुलिस को देखकर भाग रहे वाहन का पीछा कर दो लोगों को पकड़ा गया था.
पकड़े गये दोनों लोग नशे में थे. उनकी कार से एक कार्टन नशीली दवा बरामद की गयी थी. गिरफ्तार युवकों की निशानदेही पर टीम ने पहले नयाटोली सिमलिया में रामचंद्र महतो की दुकान में बने गोदाम में छापामारी की. रामचंद्र महतो की दुकान को अंबुज सिंह ने किराये पर ले रखा था.
झारखंड में नदी में समा गयी किसानों की 25 एकड़ जमीन, करोड़ों का नुकसान
उसी ने इसमें गोदाम बनाया था. छापामारी करने वाले दल को इस गोदाम से 250 कार्टन में रखे करीब 40 हजार बोतल नशीली दवा, टैबलेट्स, इंजेक्शन बरामद किये गये. इसका बाजार मूल्य करीब एक करोड़ रुपये है. विभाग के अधिकारियों ने नशीली दवा जब्त कर रातू थाना में एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज कराया है.
ड्रग्स कंट्रोल डिपार्टमेंट की टीम ने गोदाम से जो नशीली दवाएं जब्त की हैं, उनका विवरण इस प्रकार है : कोडारेक्स, सिम्पलेक्सी, ऑनरेक्स, एन 10, ट्रामाडोल, फैन्सीरेक्स, रेसकफ, पेन्टोजोसिन रिडोफ इंजेक्शन.(UNA)