बारां । जिला कलक्टर एवं जिला मजिस्टेट इन्द्रसिंह राव ने मकर संक्रांति पर पतंग महोत्सव को देखते हुए जिले की सीमा में धातु निर्मित मांझें की थोक या खुदरा बिक्री एवं उपयोग पर प्रतिबंध लगाया है।

आदेश का उल्लंघन करने वालों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जावेगी। उल्लेखनीय है कि पर्यावरण विभाग राजस्थान सरकार जयपुर के आदेश की पालना में लोक स्वास्थ्य, विद्युत संचालन बाधा रहित बनाए रखने एवं पक्षियों के लिए खतरा बन चुके धातु निर्मित मांझें के उपयोग पर प्रतिबंध लगाने के निर्देश दिए हैं। उक्त आदेशों में यह बताया गया है कि प्लास्टिक से बना पक्का धागा, सिंथेटिक सामग्री से बना चाईनीज धागा व अन्य टॉक्सिस सामग्री से बने धागे का पंतग उड़ानें में उपयोग करने से कई तरह की दुर्घटनाओं की संभावना बनी रहती है।