शिविर में सिखाई बातों को छात्राएं करें आत्मसात: डीएसपी साधुराम

0
8

By:सतीश बंसल
सिरसा।
बिश्नोई मंदिर के प्रांगण में जांभाणी साहित्य अकादमी, बीकानेर व श्री बिश्नोई सभा सिरसा द्वारा आयोजित किया जा रहा सात दिवसीय राष्ट्रीय जांभाणी एवं चरित्र निर्माण शिविर मंगलवार को संपन्न हो गया। शिविर के समापन अवसर पर डीएसपी साधुराम ने बतौर मुख्यातिथि व विशिष्ट अतिथि के रूप में सिटी थाना प्रभारी बनवारी लाल, गंगानगर से बनवारी लाल साहू व दिल्ली से आरके बिश्नोई ने शिरकत की।

इस मौके पर मुख्यातिथि डीएसपी साधुराम ने कहा कि सर्वप्रथम बिश्नोई सभा सिरसा इस प्रकार के शिविरों का आयोजन करने के लिए बधाई की पात्र है। उन्होंने शिविर में उपस्थित छात्राओं से कहा कि इन सात दिनों के अंदर जो भी ज्ञान, या जो बातें आपने सीखी है, उन्हें अपने जीवन में आत्मसात करना है।

अपने परिवार व आसपास के लोगों से भी इन बातों को सांझा करना है। इस प्रकार के शिविर छात्राओं के लिए सीखने की दृष्टि से काफी लाभकारी होते है। इस अवसर पर शहर थाना प्रभारी बनवारीलाल ने शिविर में उपस्थित छात्राओं से आह्वान किया कि वे यहां से संकल्प लेकर जाएं कि वे नशे के प्रति अपने परिवार व समाज के लोगों को जागरूक करेंगी और उन्हें नशे से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में बताकर उनका नशा छुड़वाकर उन्हें समाज की मुख्य धारा में लाने का प्रयास करेंगी। महिला सुमन मांजू ने भी छात्राओं को नशे के प्रति जागरूक करने के साथ-साथ महिला सशक्तिकरण के बारे में विस्तार से बताया। सभा के प्रचार सचिव डा.मनीराम सहारण ने बताया कि इसके पश्चात सात दिवसीय शिविर के दौरान उपस्थित छात्राओं में करवाई गई चित्रकला,निबंध,गायन,प्रश्नोत्तरी में प्रथम, द्वितीय व तीसरे स्थान पर रही छात्राओं को सभा की ओर से सर्टिफिकेट व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के दौरान सभा के सचिव ओपी बिश्नोई ने सभा का वार्षिक लेखा जोचाा प्रस्तुत किया, जिस पर सभी पदाधिकारियों व सदस्यों ने सर्वसम्मति से मुहर लगा दी।

इस मौके पर अखिल भारतीय बिश्नोई महासभा के उपप्रधान सोमप्रकाश बिश्नोई, बिश्नोई सभा सिरसा के जिला प्रधान खेमचंद बैनीवाल, उपप्रधान कृष्णपाल बैनीवाल, उपप्रधान ओमप्रकाश पूनियां, सचिव ओपी बिश्नोई, सहायक सचिव जगतपाल, भूप सिंह, लॉर्ड शिवा कॉलेज ऑफ फार्मेसी के महानिदेशक देशकमल बिश्नोई, आत्मा राम सिघड़, कार्यकारिणी सदस्य सुशील बैनीवाल, जगतपाल कड़वासरा, भूप सिंह कस्वां, हंसराज गोदारा, डबवाली से इंद्रजीत, पंजाब से राधेश्याम गोदारा, हनुमान, रिछपाल बैनीवाल, रिटायर्ड नायब तहसीलदार जगदीश तरड़, राय साहब बैनीवाल, अमर सिंह पूनियां सहित अन्य समाज के पदाधिकारी व लोग उपस्थित थे।