सिरसा:उपायुक्त ने खेतों का दौरा कर स्ट्रा बेलर से पराली प्रबंधन का किया निरीक्षण

7
49

सतीश बंसल
सिरसा,
29 अक्टूबर।

उपायुक्त पार्थ गुप्ता ने गांव पनिहारी के खेतों में जाकर पराली प्रबंधन कर रहे किसानों की न केवल प्रशंसा की और उनसे पराली प्रबंधन के बारे में जानकारी ली। हरियाणा सरकार द्वारा किसानों को खेत में धान की पराली को मिट्टी में मिलाने व गांठे बनाने के लिए भी एक हजार रुपये प्रति एकड़ की दर से प्रोत्साहन राशि दी जाएगी जिसके लिए किसानों को ऑनलाइन पंजीकरण करवाना अनिवार्य है। इसलिए किसान अधिक से अधिक पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करवाएं ताकि उन्हें योजना का लाभ मिल सके।

उपायुक्त ने कहा कि पराली प्रबंधन करने वाले किसानों को भी प्रोत्साहन स्वरुप राशि दी जाती है। पराली प्रबंधन के लिए हरियाणा सरकार द्वारा पंजीकृत गौशालाओं को किसान के खेत से पराली उठाने के लिए परिवहन प्रोत्साहन राशि 500 रुपये प्रति एकड़ तथा अधिकतम 15 हजार रुपये प्रति गौशाला दी जाएगी। उन्होंने जिला के सभी किसानों से अपील की कि किसान अपने खेतों में धान की पराली को न जलाए बल्कि सरकार द्वारा पराली प्रबंधन के लिए चलाई जा रही योजनाओं का लाभ उठाएं।

उप निदेशक कृषि डा. बाबूलाल ने बताया कि सरकार द्वारा फसल अवशेषों का सही प्रबंधन करने के लिए कृषि यंत्रों पर अनुदान भी दिया जाता है जिसके तहत स्ट्रा बेलर मशीन पर अधिकतम छह लाख रुपये तथा स्ट्रा रैक मशीन पर 50 प्रतिशत तक की सब्सिडी दी जा रही है।

उन्होंने बताया कि जिला में पिछले चार वर्षों के दौरान 178 स्ट्रा बेलर मशीन किसानों द्वारा खरीदी गई तथा इस समय जिला में करीब 2200 सुपर सीडर मशीन किसानों के पास हैं। अगर किसान इन मशीनों का उचित शेड्यूल के साथ उपयोग करें तो रबी फसलों खासकर गेहूं की बिजाई आसानी से की जा सकती है, इसलिए किसान खेत में पराली न जलाकर इन मशीनों के द्वारा सीधे रबी फसलों की बिजाई कर पर्यावरण संरक्षण में अपना अहम योगदान दें।

पराली का प्रबंधन कर दूसरों को प्रेरित कर रहे हैं किसान गणेश मेहता

किसान गणेश मेहता ने बताया कि उन्होंने अपनी आमदनी बढ़ाने के लिए पराली प्रबंधन का कार्य शुरू किया और दूसरों को भी पराली प्रबंधन अपनाने के लिए भी प्रेरित किया। किसान ने कहा कि खेती के साथ-साथ पराली प्रबंधन का कार्य अपनाकर हम अपनी आमदनी बढा सकते हैं। इसके अलावा साथ में अन्य व्यवसाय भी अपना सकते हैं।

किसान ने बताया कि जिला के किसान भी पराली प्रबंधन को लेकर गंभीर हैं और जिला प्रशासन द्वारा जागरूकता अभियान के माध्यम से पराली न जलाने का संकल्प भी ले रहे हैं। इस दौरान एसडीएम राजेंद्र कुमार, सहायक कृषि अभियंता विजय कुमार, खंड कृषि अधिकारी रमेश कुमार सहित अन्य किसान मौजूद थे।

7 COMMENTS

  1. Thanks for every other excellent post. Where else could anyone get that kind of information in such an ideal way of writing? I’ve a presentation next week, and I’m at the look for such info.

  2. Thanks for sharing superb informations. Your web site is very cool. I am impressed by the details that you have on this web site. It reveals how nicely you perceive this subject. Bookmarked this website page, will come back for extra articles. You, my pal, ROCK! I found just the info I already searched everywhere and just could not come across. What a perfect website.

  3. Hi, just required you to know I he added your site to my Google bookmarks due to your layout. But seriously, I believe your internet site has 1 in the freshest theme I??ve came across. It extremely helps make reading your blog significantly easier.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here