कोटा। चाइनीज मांझे की धार से लोगों के घायल होने की दर्दनाक घटनाओं से क्षुब्ध व दुखी होकर गुरूवार को मकबरा के एक पतंग विक्रेता मोनू उर्फ तौफीक अहमद ने मीडिया के जरिये निगम दस्ते को बुलाया और अपनी दुकान पर विक्रय के लिए रखी चाइनीज मांझे की 21 चकरियां दस्ते के हवाले कर दी। साथ ही उसने प्रण किया कि अब वो कभी भी चाइनीज मांझे का विक्रय नही करेगा। निगम दस्ते द्वारा चाइनीज मांझे के रोल उससे लेकर मौके पर ही जलाकर नष्ट कर दिये गये। निगम दस्ते के प्रभारी फाॅयर आॅफिसर राकेश व्यास ने तौफीक के इस कदम पर उसका माला पहनाकर निगम की ओर से अभिनन्दन किया।

नगर निगम आयुक्त जुगल किशोर मीना ने शहर के सभी मांझा विक्रेताओं का आव्हान करते हुये आग्र्रह किया है कि वो तौफीक अहमद के कार्य से प्रेरणा प्राप्त कर जनहित मे प्रतिबंधित चाइनीज मांझे का विक्रय बंद कर दें।

इससे पूर्व निगम के दस्ते ने गुरूवार को पाटनपोल, मकबरा व घंटाघर क्षेत्र मे छापामार कार्यवाही की और मांझा विक्रय की दुकानों से कुल 15 रोल चाइनीज मांझे के जप्त कर आग के हवाले कर नष्ट कर दिया। पार्षद महेश् ा गौतम लल्ली व दिलीप पाठक ने निगम प्रश् ाासन से मांग की कि चाइनीज मांझा जप्त करने का अभियन निरन्तर जारी रखा जाये।